महिला स्व सहायता समूहों द्वारा तैयार किये गये मल्टीयूज फेस मॉस्क जिला पंचायत परिसर में संचालित आजीविका स्ट से विक्रय किये जा रहे हैं। समूहों की महिलाओं द्वारा लगभग 10 हजार मॉस्क तैयार किये गये हैं।

देवास/ कलेक्टर डॉ श्रीकान्त पाण्डेय के निर्देशानुसार एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्रीमती शीतला पटले के मार्गदर्शन में मध्यप्रदेश राज ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत संचालित महिला स्व सहायता समूहों द्वारा तैयार किये गये मल्टीयूज फेस मॉस्क जिला पंचायत परिसर में संचालि आजीविका स्टोर से विक्रय किये जा रहे हैं। समूहों की महिलाओं द्वारा लगभग 10 हजार मॉस्क तैयार किये गये हैं। परियोजना प्रबंधक श्री नेमचंद जाधव ने बताया कि इस केन्द्र के माध्यम से आम जनता व शासकीय, अर्ध शासकीय विभागों द्वारा थोक व खेरच में मॉस्क खरीदे जा रहे हैं। मॉस्क शासन द्वारा निर्धारित दर पर उपलबध कराये जा रहे हैं। समूहों द्वारा तैयार फेस मॉस्क को पूरे दिन उपयोग कर, सुखाकर, प्रेसकर पुन: उपयोग में लाया जा सकता है। आजीविका स्टोर प्रतिदिन 10 बजे से सायं 7.00 बजे तक खुला रहता है कोई भी व्यक्ति, संस्थ विभाग आवश्यकता अनुसार मॉस्क खरीद सकता है। स्व सहायता समूहों की सदस्य स्वयं विभिन्न ग्रामों से पुलिस के साथ समन्वय कर मॉस्क लेक आजीविका स्टोर पहुंचती हैं और मॉस्क जमा कर वापस ग्राम में जाकर मॉस्क बनाने का कार्य करती हैं। मॉस्क इकट्ठा कर लाने वाली महिलाओं में रूबिना बी ग्राम गुजरबापच्या, अरूणा अकबरपुर, चिन्तामणी दतोत्तर, सुनीता गोस्वामी मखेडा, रजनी फावड़ा, शहनाज ग्राम सतकली शामिल हैं।


Popular posts
माँ कर्मा देवी जयंती की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं- दिनेश साहू प्रवक्ता मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी
Image
शत्रु ये अदृश्य है विनाश इसका लक्ष्य है - शरद गुप्ता /इंस्पेक्टर मुम्बई पुलिस
Image
बैतूल पाढर चौकी के ग्राम उमरवानी में जुआ रेड पर जबरदस्त कार्यवाही की गई
Image
एक ऐसी महान सख्सियत की जयंती हैं जिन्हें हम शिक्षा के अग्रदूत नाम से जानते हैं ।वो न केवल शिक्षा शास्त्री, महान समाज सुधारक, स्त्री शिक्षा के प्रणेता होने के साथ साथ एक मानवतावादी बहुजन विचारक थे। - भगवान जावरे
Image
बेवजह घर से निकलने की,  ज़रूरत क्या है | मौत से आंख मिलाने  की,  ज़रूरत क्या है || भगवान जावरे