आजीविका जैविक खाद  से  समूह सदस्यों को हुई ₹13500 की आय

आजीविका जैविक खाद  से  समूह सदस्यों को हुई ₹13500 की आय
( सुनील जोशी)
 अलीराजपुर-- मध्य प्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन अलीराजपुर के लक्ष्मी आजीविका महिला स्वयं सहायता समूह ग्राम हरसवाट के समूह सदस्यों की मेहनत रंग लाई । उनके द्वारा तैयार वर्मी कंपोस्ट के बेड  से जैविक खाद तैयार हुई । जिसे उन्होंने कृषि विज्ञान केंद्र अलीराजपुर को 6/- ₹0 प्रति किलो की दर से 22 क्विंटल 50 किलो जैविक खाद विक्रय किया  । जिससे उनको ₹13500 की आय हुई ।  समूह के इस काम  में कृषक कल्याण एवं कृषि  विकास विभाग की आत्मा परियोजना के तहत समूह के 10 सदस्यों के यहां जैविक खाद के बेड तैयार करवाऐ.गए थे ।  जिसमें डालने हेतु  केचुऐ भी उपलब्ध करवाए गए थे । जिसका समस्त खर्च  विभाग द्वारा किया गया था ।   जिला प्रबंधक जी एस तोमर विकासखड प्रबंधक प्रशांत मेहता एवं कृषि विज्ञान केंद्र के डॉ आर के यादव द्वारा सदस्यों को प्रशिक्षित किया गया था एवं उन्हें पूरी प्रक्रिया से अवगत करवाया गया था । समूह को आर्थिक लाभ पहुंचाने के लिए  जिला कलेक्टर श्रीमती सुरभि गुप्ता, जिला पंचायत के सीईओ एसके मालवीय एवं डीपीएम शीला शुक्ला द्वारा विभिन्न विभागों से वर्मी कंपोस्ट (केंचुआ खाद) की मांग के लिए जानकारी दिलवाई गई थी । जिससे बड़ी मात्रा में विभिन्न विभागों से मांग प्राप्त हुई थी । मांग के आधार पर तैयार खाद को पहुंचाने का कार्य प्रारंभ किया गयाहै । इसी तारतम्य में पहली बार कृषि विज्ञान केंद्र अलीराजपुर को यह खाद उपलब्ध करवाई गई है।  पूर्व सरकार के मंत्री हनी बघेल ने वर्मी कंपोस्ट से जुड़ी जानकारियों  के पोस्टर का विमोचन भी कलेक्टर कार्यालय में किया था । जैविक खाद निर्माण करने में 90 दिन से अधिक समय लगा । इस तरह से  समूह के लोगों के लिए रोजगार के अन्य विकल्प भी तैयार हो रहे है । जिसके लिए जिला प्रशासन की भूमिका सराहनीय है । समूह की अध्यक्ष  श्रीमती चंमबाई  तथा समूह सदस्यों ने कलेक्टर एवं  सभी कर्मचारियों के प्रति  आभार व्यक्त किया है।  गतिविधियों को संपादित करवाने में विकासखंड इकाई के संजय रोमडे, श्रीमती अनीता एवं अंतिम बाला  मंडलोई का विशेष सहयोग रहा है ।


Popular posts
अगर आप दुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा दुखी रहेंगे और सुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा सुखी रहेंगे
Image
आंसू" जता देते है, "दर्द" कैसा है?* *"बेरूखी" बता देती है, "हमदर्द" कैसा है?*
ग्रामीण आजीविका मिशन मे भ्रष्टाचार की फिर खुली पोल, प्रशिक्षण के नाम पर हुआ घोटाला, एनसीएल सीएसआर मद से मिले 12 लाख डकारे
Image
कान्हावाड़ी में बनेगी अनूठी नक्षत्र वाटिका, पूर्वजों की याद में लगायेंगे पौधे* *सांसद डीडी उइके एवं सामाजिक कार्यकर्ता मोहन नागर ने कान्हावाड़ी पहुँचकर किया स्थल निरीक्षण
Image
सरकार ने गरीबों के लिए खोला खजाना - मुख्यमंत्री श्री चौहान
Image