आमला,108 के कर्मचारियों को ग्रामीण कर रहे दरकिनार, पंचायत ने कर दिया अजीबो गरीब   फरमान जारी. मामला.ग्राम पंचायत लिखड़ी आमला ब्लाक का -: आशीष पेंढारकर

बैतूल.आमला,108 के कर्मचारियों को ग्रामीण कर रहे दरकिनार, पंचायत ने कर दिया अजीबो गरीब  
फरमान जारी. मामला.ग्राम पंचायत लिखड़ी आमला
ब्लाक का -: आशीष पेंढारकर


दूरदराज से 108 में डयूटी कर कर्मचारियों को ग्रामीणों द्वारा प्रताड़ित किया जा रहा है जहां अपने परिवार की चिंता न करते हुए रात दिन हर मुसीबत के समय मे अपनी सेवाओं  से लाभान्वित करने वाले 108 के कर्मचारियों को अब ग्रामीणों द्वारा घृणा की नजरों से  देखा जा रहा है ग्रामीणों द्वारा 108 कर्मियों को प्रताड़ित किया जा रहा है कि आप या तो गाँव मे रह लो या फिर नोकरी छोड़ दो आपको नोकरी चाहिए तो आप गाँव में प्रवेश नही कर सकते इस तरह का फरमान भी जारी किया गया है गाँव के सरपंच, सचिव, ओर पंचगणों द्वारा धमकी भरा नोटिस दिया गया है। अब इस समस्या को लेकर कर्मचारी अपनी सेवा करने में हिचकिचा रहे है लेकिन इस विश्व आपदा को लेकर वो अपने कर्तव्य का पालन करने से नही चूक रहे है दिन रात 24 सो घंटे अपनी सेवा के लिए तत्पर है इधर सरकार द्वारा लॉक डाउन को लेकर वाहनों का आवागमन बाधित हो जाने से कर्मचारियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है लेकिन इसकी परवाह न करते हुए भी 108 के कर्मचारियों द्वारा अपने कर्तव्य का बखूबी पालन कर रहे है और शासन से 108 कर्मी गुहार भी लगा रहे है कि कर्मचारियो को सुरक्षा प्रदान करे ता की 108 कर्मी अपनी सेवा सुचारू रूप से दे सके।और कर्मचारियों ने सरकार से ये भी अपील की है कि हम भी अपनी सेवाएं बखूबी दे रहे है शासकीय कर्मचारियों को 50 लाख का बीमा दिया जा रहा है लेकिन हमारे द्वारा भी स्वास्थ्य विभाग का ही कार्य किया जा रहा है तो 108 कर्मचारियों को इस सुविधा का लाभ क्यों नही दिया जा रहा है हमारी जान से ऐसा खिलवाड़ सरकार  क्यों कर रही है इस योजना की जानकारी देते हुए हमें इस बात से अवगत कराएं।


Popular posts
आंसू" जता देते है, "दर्द" कैसा है?* *"बेरूखी" बता देती है, "हमदर्द" कैसा है?*
मध्यप्रदेश के मेघनगर (झाबुआ) में मिट्टी से प्रेशर कुकर बन रहे है
Image
ग्रामीण आजीविका मिशन मे भ्रष्टाचार की फिर खुली पोल, प्रशिक्षण के नाम पर हुआ घोटाला, एनसीएल सीएसआर मद से मिले 12 लाख डकारे
Image
कान्हावाड़ी में बनेगी अनूठी नक्षत्र वाटिका, पूर्वजों की याद में लगायेंगे पौधे* *सांसद डीडी उइके एवं सामाजिक कार्यकर्ता मोहन नागर ने कान्हावाड़ी पहुँचकर किया स्थल निरीक्षण
Image
भगवान पार ब्रह्म परमेश्वर,"राम" को छोड़ कर या राम नाम को छोड़ कर किसी अन्य की शरण जाता हैं, वो मानो कि, जड़ को नहीं बल्कि उसकी शाखाओं को,पतो को सींचता हैं, । 
Image