औरंगाबाद से आए अरविंद और साथी बस से दमोह के लिए रवाना (कहानी सच्ची है) व्यवस्था के लिए सरकार और कलेक्टर श्री वर्मा को दिया धन्यवाद


हरदा। राज्य शासन के निर्देशानुसार लॉकडाऊन में फंसे अन्य जिलों के मजदूरों को उनके गृह जिलों तक पहुंचाने की व्यवस्था की जा रही है। मंगलवार को महाराष्ट्र के औरंगाबाद से आए अरविंद एवं उनके तीन साथी कुंजबिहारी, विमलेश और सोनू बस से दमोह के लिए रवाना हुए। उन्होंने बताया कि औरंगाबाद में वे तीनों मजदूरी करने औरंगाबाद गए थे। लॉकडाऊन में फंसने पर पैदल घर के लिए निकल पड़े, हरदा पहुंचने पर जिला प्रशासन द्वारा उनके लिए भोजन एवं रूकने का प्रबंध किया गया। उन्होंने बस से घर भेजने की व्यवस्था के लिए राज्य सरकार एवं कलेक्टर श्री अनुराग वर्मा के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया।


Popular posts
अगर आप दुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा दुखी रहेंगे और सुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा सुखी रहेंगे
Image
आंसू" जता देते है, "दर्द" कैसा है?* *"बेरूखी" बता देती है, "हमदर्द" कैसा है?*
ग्रामीण आजीविका मिशन मे भ्रष्टाचार की फिर खुली पोल, प्रशिक्षण के नाम पर हुआ घोटाला, एनसीएल सीएसआर मद से मिले 12 लाख डकारे
Image
कान्हावाड़ी में बनेगी अनूठी नक्षत्र वाटिका, पूर्वजों की याद में लगायेंगे पौधे* *सांसद डीडी उइके एवं सामाजिक कार्यकर्ता मोहन नागर ने कान्हावाड़ी पहुँचकर किया स्थल निरीक्षण
Image
सरकार ने गरीबों के लिए खोला खजाना - मुख्यमंत्री श्री चौहान
Image