बे वजह घर से निकलने की ज़रूरत क्या है"* *"मौत से आँखे मिलाने की ज़रूरत क्या है"* - हेमंत साहू

गुलजार साहब की यह कविता आज बहुत याद आ रही है...👏👏


*"बे वजह घर से निकलने की ज़रूरत क्या है"*
*"मौत से आँखे मिलाने की ज़रूरत क्या है"*


*"सब को मालूम है बाहर की हवा है क़ातिल"*
*"यूँही क़ातिल से उलझने की ज़रूरत क्या है"*


*"ज़िन्दगी एक नेमत है उसे सम्भाल के रखो"*
*"क़ब्रगाहों को सजाने की ज़रूरत क्या है"*


*"दिल बहलाने के लिये घर में वजह हैं काफ़ी"*
*"यूँही गलियों में भटकने की ज़रूरत क्या है"*


🖋️🖋️🖊️🖊️


 


Popular posts
ग्रामीण आजीविका मिशन मे भ्रष्टाचार की फिर खुली पोल, प्रशिक्षण के नाम पर हुआ घोटाला, एनसीएल सीएसआर मद से मिले 12 लाख डकारे
Image
मधुशाला
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में मध्य प्रदेश सरकार द्वारा एक व्हाट्सएप  नंबर 7834980000 जारी किया गया है
Image
सरकारी माफिया / म. प्र. भोज मुक्त विश्वविद्यालय बना आर्थिक गबन और भ्रष्टाचार का अड्डा* **राजभवन सचिवालय के अधिकारियों की कार्य प्रणाली संदेह के घेरे में** *कांग्रेसी मूल पृष्ठ भूमि के कुलपति डॉ जयंत सोनवलकर अब राज्यपाल आर एस एस का संरक्षण बताकर कर रहे है खुलकर भ्रष्टाचार*
एसडीएम बांधवगढ अनुराग सिंह की अध्यक्षता में खण्ड स्तरीय आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में जिला मुख्यालय स्थित सब्जी आढत बाजार में सोषल डिस्टेसिंग का सख्ती से पालन कराने का लिया गया निर्णय
Image