घोड़ाडोंगरी - कोरोना वायरस के चलते श्रद्धालुओं ने अपने,अपने घरों में रहकर ही धीर, वीर, गंभीर, रामलला,, मर्यादा, पुरुषोत्तम, प्रभु, श्री रामचंद्र, भगवान का जन्म उत्सव बनाया* मंदिरों में पुजारी एवं पंडितों ने किया अनुष्ठान* बोल बम समिति सयोंजक विकास  अग्रवाल ने सभी नगर वासियों से अपील की है कि आज रामनवमी के पर्व पर शाम 7:15 बजे अपने अपने घरों के सामने पांच दीपक अवश्य जलाएं* -: आशीष पेंढारकर

घोड़ाडोंगरी - कोरोना वायरस के चलते श्रद्धालुओं ने अपने,अपने घरों में रहकर ही धीर, वीर, गंभीर, रामलला,, मर्यादा, पुरुषोत्तम, प्रभु, श्री रामचंद्र, भगवान का जन्म उत्सव बनाया* मंदिरों में पुजारी एवं पंडितों ने किया अनुष्ठान* बोल बम समिति सयोंजक विकास  अग्रवाल ने सभी नगर वासियों से अपील की है कि आज रामनवमी के पर्व पर शाम 7:15 बजे अपने अपने घरों के सामने पांच दीपक अवश्य जलाएं* -: आशीष पेंढारकर


धीर, वीर, गंभीर, मर्यादा पुरुषोत्तम संकल्प को पूरा करने की निष्ठा रखने वाले माता सीता को प्यास लगी तो एक ही तीर मैं धरती से पानी निकालने वाले सनातन वैदिक धर्म के पालनहार भगवान श्री रामचंद्र जी के जन्मोत्सव कोरोना वायरस के चलते नगर में प्रतिवर्ष अनुसार उत्साह उमंग के साथ नहीं मनाया जा रहा है। लेकिन प्रभु श्री राम को मानने वाले श्रद्धालु अपने घरों पर ही अपने रामलला का प्रकट उत्सव धूमधाम से मना रहे हैं। और प्रभु राम से प्रार्थना कर रहे हैं कि यह कोरोना वायरस शीघ्र ही देश से भागे नगर के प्राचीन टेकड़ी मंदिर एवं बस्ती के सत्यनारायण मंदिर में पुजारियों द्वारा प्रतिवर्ष के अनुसार इस वर्ष भी भगवान प्रकट उत्सव मनाया गया विद्वान पंडितों ने कोरोना वायरस के चलते मंदिर परिसर के अंदर ही अनुष्ठान को संपादित कराया कोरोना वायरस से बचाव एवं प्रशासन की सख्ती के कारण श्रद्धालु मंदिर नहीं पहुंचे। उन्होंने भी प्रशासन का सहयोग किया प्रधानमंत्री के लॉक डाउन का पालन किया रामलला के जयकारे लगाए वही घोड़ाडोंगरी नगर की बोल बम समिति के सयोंजक विकास अग्रवाल ने सभी घोड़ाडोंगरी नगर वासियों से अपील की है कि आज रामनवमी के पर्व पर आज शाम 7:15 बजे अपने अपने घरों के सामने पांच दीपक अवश्य लगाएं