कोरोना वायरसः अमरीका में कोरोना महामारी के केंद्र न्यूयॉर्क के गवर्नर ने कहा है कि वहाँ की फ़ार्मेसी दुकानों को कोरोना टेस्ट करने की अनुमति दे दी गई है.


गवर्नर एंड्रयू कुओमो ने कहा कि लगभग 5,000 फ़ार्मेसी में टेस्टिंग हो सकेगी और लक्ष्य है कि प्रतिदिन 40,000 टेस्ट करवाए जाएँ. अमरीका में 938,000 मामलों की पुष्टि हो चुकी है. 53,751 लोगों की पूरे देश में जान गई है जिनमें लगभग एक तिहाई लोग केवल न्यूयॉर्क में मारे गए. इस बीच राष्ट्रपति ट्रंप ने शनिवार को अपनी दैनिक ब्रीफिंग नहीं की और कहा कि ये उनके "समय और उनके प्रयास" के लायक नहीं है. ट्रंप ने क्या कहा? राष्ट्रपति ने शनिवार को ट्विटर के जरिए मीडिया पर "केवल शत्रुतापूर्ण सवाल करने" का आरोप लगाया. गुरुवार को व्हाइट हाउस के संवाददाता सम्मेलन में ये कहने के लिए उनकी खूब खिंचाई हुई थी कि डिसइन्फेक्टेंट या रोगाणुनाशक कोरोना वायरस का इलाज हो सकते हैं. डॉक्टरों और रोगाणुनाशक निर्माताओं ने उनकी टिप्पणी की निंदा करते हुए इसे ख़तरनाक बताया और कहा कि वे ख़तरनाक पदार्थ होते हैं और उन्हें शरीर में डालने से वो ज़हर बन सकते हैं.


गवर्नर कुओमो ने बताया कि इस सप्ताह एक स्टडी के दौरान 3,000 में से लगभग 14 प्रतिशत लोगों में ऐंटीबॉडीज़ पाए गए जिसका मतलब ये है कि ये वायरस पूरी आबादी में फैला है. इस बीच, न्यूयॉर्क के स्वतंत्र बजट ऑफ़िस ने कहा है कि लॉकडाउन की वजह से 475,000 नौकरियाँ जा सकती हैं और शहर को 10 अरब डॉलर का बजट घाटा हो सकता है.


दूसरे राज्य क्या कर रहे हैं? शुक्रवार को जॉर्जिया, ओकलाहोमा और अलास्का ने कुछ व्यवसायों को खोलने की अनुमति दे दी हालाँकि राष्ट्रपति ट्रंप और कुछ विशेषज्ञों ने चेतावनी दी थी कि ये जल्दबाज़ी होगी और इससे संक्रमण का नया दौर शुरू हो सकता है. मध्य मार्च से लेकर अब तक ढाई करोड़ से ज्यादा लोगों के बेरोज़गारी भत्ते के लिए दावे करने के बाद, जो कि अमरीका की आबादी का 15% है, कई राज्यों पर पाबंदियों में छूट देने का दबाव बढ़ रहा है. इस बीच समाचार एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार फ़्लोरिडा और कैलिफ़ोर्निया में शनिवार को बड़ी संख्या में लोग समुद्रतटों पर निकल पड़े.


Popular posts
अतिथि शिक्षकों को अप्रैल तक का मानदेय होगा भुगतान 
Image
हर साल 1000 करोड़ का घोटाला करता है राशन माफिया
Image
रायसेन में डॉ राधाकृष्णन हायर सेकंडरी स्कूल के पास मछली और चिकन के दुकान से होती है गंदगी नगर पालिका प्रशासन को सूचना देने के बाद भी नहीं हुई कोई कार्यवाही
बीती देर रात सांसद दुर्गादास उईके ने ग्राम पिपरी पहुंचकर हादसे में मृतकों के परिजनों से की मुलाकात ।
Image
*ये दुनिया भी कितनी निराली है!* *जिसकी आँखों में नींद है …. उसके पास अच्छा बिस्तर नहीं …जिसके पास अच्छा बिस्तर है …….उसकी आँखों में नींद नहीं …* *जिसके मन में दया है ….उसके पास किसी को देने के लिए धन नहीं* …. *और जिसके पास धन है उसके मन में दया नहीं