मध्य प्रदेश में आईएएस अधिकारी समेत 161 कोरोना संक्रमित

भोपाल में सेनेटाइजेशन का काम किया जा रहा मध्य प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव लोगों की संख्या 161 पहुंच गई है. प्रदेश में सबसे ज्यादा एक दिन में 41 मरीज़ पॉज़िटिव पाए गए हैं. इनमें भोपाल में जहां 6 नए मरीज़ है तो इंदौर में 23 नए मरीज़ मिले हैं. प्रदेश के छोटे शहरों में भी कोरोना पहुंच चुका है. मुरैना में एक ही परिवार के 12 लोग पॉज़िटिव पाए गए हैं. इंदौर में एक ही परिवार में साढ़े तीन साल और 12 साल का बच्चा भी पॉज़िटिव पाया गया है. वही उज्जैन में तीन और इंदौर में दो लोगों की मौत हुई है जिनकी रिपोर्ट आना बाकी है. भोपाल में एक आईएएस अधिकारी की दूसरी रिपोर्ट भी पॉज़िटिव आई है. इसकी वजह से कोरोना ग्रुप के 12 आईएएस होम क्वारंटाइन हो गए हैं. ये अधिकारी संक्रमित अधिकारी के संपर्क में किसी न किसी तरह आए हैं. इन सभी के सैंपल लेकर जांच की जा रही है. वहीं स्वास्थ्य विभाग के 150 लोगों की सूची बनाकर उनकी निगरानी की जा रही है क्योंकि वो लोग संक्रमित आईएएस अधिकारी के संपर्क में आए थे. अधिकारी की ट्रेवल हिस्ट्री अभी नहीं मिल पाई है. अधिकारी के घर के बाहर किसी भी तरह का पोस्टर स्वास्थ्य विभाग ने नहीं चिपकाया है. जबकि आम लोग जो विदेश से लौटे हैं उनके घर के बाहर होम क्वारंटाइन के पोस्टर लगा दिए गए हैं. इस पर कुछ सामाजिक कार्यक्रताओं ने सवाल उठाए हैं. वहीं भोपाल में एक पत्रकार और विदेश से लौटीं उनकी पुत्री अब कोरोना से ठीक हो गए हैं. उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई है. उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल गई है और वो अपने घर पहुंच गए हैं. पत्रकार की बेटी लंदन से भोपाल आई थीं जिसके बाद उन्हें कोरोना पॉज़िटिव पाया गया था.


Popular posts
अगर आप दुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा दुखी रहेंगे और सुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा सुखी रहेंगे
Image
मध्यप्रदेश के मेघनगर (झाबुआ) में मिट्टी से प्रेशर कुकर बन रहे है
Image
कान्हावाड़ी में बनेगी अनूठी नक्षत्र वाटिका, पूर्वजों की याद में लगायेंगे पौधे* *सांसद डीडी उइके एवं सामाजिक कार्यकर्ता मोहन नागर ने कान्हावाड़ी पहुँचकर किया स्थल निरीक्षण
Image
भगवान पार ब्रह्म परमेश्वर,"राम" को छोड़ कर या राम नाम को छोड़ कर किसी अन्य की शरण जाता हैं, वो मानो कि, जड़ को नहीं बल्कि उसकी शाखाओं को,पतो को सींचता हैं, । 
Image
छिंदवाड़ा शहर में  एक प्रधानमंत्री जनऔषधि केंद्र भी है