मध्यप्रदेश के या राज्य से बाहर फंसे लोगों के आवागमन हेतु ई-पास की सुविधा संबंधी निर्देश

हरदा। अपर मुख्य सचिव प्रभारी स्टेट कंट्रोल रूम मध्यप्रदेश शासन ने आई.सी.पी. केशरी ने समस्त कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक को मध्यप्रदेश के या मध्यप्रदेश के बाहर फंसे लोगों के आवागमन हेतु ई-पास की सुविधा हेतु निर्देश जारी किये है। उन्होने निर्देशित किया है कि देश के अन्य हॉट-स्पॉट जिलों से प्रदेश में आने के लिये कोई भी पास आगामी आदेश तक जारी नहीं किये जाए। हॉट-स्पॉट की जानकारी स्वास्थ्य ई-पास को प्रदेश में आने या प्रदेश के बाहर जाने के लिये स्वयं के वाहन या साधन की व्यवस्था होने पर ही ई-पास दिया जाए। जो अभिभावक अन्य प्रदेशों में फंसे हये अपने बच्चों को लेने के लिये जाना चाहते है एवं पुनः प्रदेश में उन्हें वापस लेकर आना चाहते है इस तरह के प्रकरणों में आने एवं जाने का पास एक साथ जारी किया जा सकता है। संबंधित साफ्टवेयर में इसका प्रावधान है। प्रदेश के एक जिले से दूसरे जिलों में कार्य हेतु जाने के लिये कांट्रेक्टर्स एवं मजदूरों के आवेदन के आधार पर ई-पास जारी किया जा सकता है। पास जारी करने के पूर्व इस बात का ध्यान रखा जाए कि पूर्व हॉट-स्पॉट वाले जिलो से आने पर प्रतिबंध है। इसी प्रकार इंदौर, भोपाल और उज्जैन में केवल मृत्यु एवं मेडिकल इमरजेंसी को छोड़कर अन्य आवागमन पर प्रतिबंध है।


Popular posts
अतिथि शिक्षकों को अप्रैल तक का मानदेय होगा भुगतान 
Image
हर साल 1000 करोड़ का घोटाला करता है राशन माफिया
Image
रायसेन में डॉ राधाकृष्णन हायर सेकंडरी स्कूल के पास मछली और चिकन के दुकान से होती है गंदगी नगर पालिका प्रशासन को सूचना देने के बाद भी नहीं हुई कोई कार्यवाही
बीती देर रात सांसद दुर्गादास उईके ने ग्राम पिपरी पहुंचकर हादसे में मृतकों के परिजनों से की मुलाकात ।
Image
*ये दुनिया भी कितनी निराली है!* *जिसकी आँखों में नींद है …. उसके पास अच्छा बिस्तर नहीं …जिसके पास अच्छा बिस्तर है …….उसकी आँखों में नींद नहीं …* *जिसके मन में दया है ….उसके पास किसी को देने के लिए धन नहीं* …. *और जिसके पास धन है उसके मन में दया नहीं