मैं मूलतः इंसान हूँ,कभी भी हिन्दू-मुसलमान की बात नहीं करता। के.के.मिश्रा*

*मैं मूलतः इंसान हूँ,कभी भी हिन्दू-मुसलमान की बात नहीं करता। के.के.मिश्रा*


रविवार से लगातार सोशल मीडिया व आज प्रिंट मीडिया में प्रमुखता से यह समाचार  प्रसारित/प्रकाशित हुआ है कि "प्लाज़्मा देने में इंदौर में सबसे पहले आगे आये 2 डॉक्टर", डॉक्टरों के नाम हैं- "डॉ. इकबाल कुरैशी व डॉ. इज़हार मुंशी" और प्लाज़्मा थैरेपी का डोज़ जिन 3 संक्रमितों को दिया जा रहा है,वे हैं श्री कपिल भल्ला,श्री प्रियल जैन व श्री अनीश जैन (ईश्वर इन्हें जल्द स्वस्थ्य करे)।*
     *मैं कल से देख रहा हूँ कि कोरोना संक्रमण से ज्यादा "नफरत का संक्रमण" फैलाने वाले प्रायोजित "अंध भक्तों" की आंखों की रोशनी चली गई है या वे लॉक डाउन में ( अपनी वेशभूषा) में सेवा कार्य करने के लिए शायद चीन चले गए हैं!! या यूं कहूँ कि इस अनुकरणीय ईश्वरीय सेवा पर उनका कोई विश्वास नहीं है,सिवाय "शाब्दिक जुगाली -नफ़रत फैलाने के"..... यहां सब खामोश?,मित्रों मेरी आपसे सिर्फ यही विनम्र प्रार्थना है कि हालांकि आपको अपने राजनैतिक गर्भ से ही सिर्फ नफ़रत फैलाने की सौगात प्राप्त है!!लिहाज़ा,इस आग को फैलाने हेतु कृपाकर समय भी देख लिया कीजिये,अनुकरणीय सेवाओं को लेकर तारीफ़ करना भी सीखये?*
     *और हां, मैं आपको अपमानित भी करना नहीं कहता,परन्तु यह संलग्न VDO भी देखिये,जो सांवेर तहसील के किसी भाजपा नेता प्रताप सिंह केलवा जी का है,लॉक डाउन के बाद वे मुनाफ़ाखोरी के लिए अपनी दुकान खोलते हैं।कर्मवीर पुलिस के वहां पहुंचते ही अपनी "लोअर" में सु...सु कर देते है....इससे अन्दाज़ लगाया जा सकता है,कि "बकवास के साथ कलेजा भी चाहिए,अन्यथा केलवा बनते जाओगे,सुधार जाइये,सच को सच और झूठ को झूठ कहने का साहस भी रखिये!*