मुजफ्फरनगर* *(एसएसपी) ने खुद संभाला चौराहों पर मोर्चा जमकर ली क्लास पुलिसकर्मियों व (मीडियाकर्मियों) को भी दी चेतावनी


*मुजफ्फरनगर*
*(एसएसपी) ने खुद संभाला चौराहों पर मोर्चा जमकर ली क्लास पुलिसकर्मियों व (मीडियाकर्मियों) को भी दी चेतावनी जनपद मुजफ्फरनगर में देर रात हुई (मुख्यमंत्री) की वीडियो कॉन्फ्रेंस के बाद आज खुद ही सड़कों पर उतरे (एसएसपी) अभिषेक यादव, नगर के प्रकाश चौक, मीनाक्षी चौक ,शिव चौक, हनुमान चौक, लद्दावला चुंगी नंबर (2) ,बकरा मार्किट,अंसारी चौक, अस्पताल चौराहा, सिविल लाइन चौराहा, मंडी चौराहा,गांधी नगर चौराहा,अल्मासपुर चोराहा,नवीन कुकड़ा मंडी मार्केट,नई मंडी क्षेत्र, महावीर चौक ,सुजड़ू चुंगी चौराहा आदि सभी जगह पर खुद खड़े होकर चेकिंग अभियान चलवाया खुलेआम बाजारों में घूम रहे वे लॉक डाउन का उलंघ्नन कर रहे लोगो को जमकर हड़काया वई चौराहों पर ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मियों को दिशा निर्देश दिए की लॉक डाउन पहले की तरह ही रहेगा जो (3) मई तक है अगर कोई दो पहिया वाहन या चार पहिया वाहन में बेवजह घूमता हुआ मिला तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करे किसी को भी नही बख्शे अपने पास एक पीआरवी खड़ी रखे और पकड़े हुए को कार्यवाही के लिए थाने भिजवाए सभी पुलिसकर्मी एक्टिव होकर चौराहों पर ड्यूटी करें और आने जाने वाले पैदल और वाहनों को चेक करें अगर कोई बैंक से पैसे निकालने जा रहा है उसकी पासबुक चेक करें अस्पताल या डॉक्टर के जा रहे हैं तो उसके डॉक्टर का पर्चा चेक करें (मीडिया) कर्मियों को भी चेतावनी देते हुए कहा कि अगर कोई (मीडिया) कर्मी दो व्यक्तियों के साथ अपनी बाइक पर घूमता मिला उसका भाई या कोई दोस्त रिश्तेदार हुआ तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई होगी (मीडिया) कर्मियों को अपने चैनल या अखबार के कार्ड गले में डाल कर रखने होंगे (एसएसपी) अभिषेक यादव, ने कई चौराहों पर घूम रहे (मीडिया) कर्मियों को भी समझाया और उनके कार्ड चेक करें एक वीकली अखबार के घूम रहे 3,3 लोगो को जमकर हड़काया ओर अपनी एस्कॉर्ट में बैठा लिया वही वीकली अखबार के रिपोर्टर द्वारा मॉन मनोव्वल करने के बाद (एसएसपी) ने छोड़ा ओर चेतावनी दी कि दुबारा मत दिखाई देना वही चौराहों पर तैनात दरोगा को समझाया कि एक जगह खड़े होने के बजाय चौराहों पर चारो तरफ खड़े होकर पुलिसकर्मी अपनी ड्यूटी करे और चेंकिंग का ध्यान रखे*


 


Popular posts
अतिथि शिक्षकों को अप्रैल तक का मानदेय होगा भुगतान 
Image
एक ऐसी महान सख्सियत की जयंती हैं जिन्हें हम शिक्षा के अग्रदूत नाम से जानते हैं ।वो न केवल शिक्षा शास्त्री, महान समाज सुधारक, स्त्री शिक्षा के प्रणेता होने के साथ साथ एक मानवतावादी बहुजन विचारक थे। - भगवान जावरे
Image
*ये दुनिया भी कितनी निराली है!* *जिसकी आँखों में नींद है …. उसके पास अच्छा बिस्तर नहीं …जिसके पास अच्छा बिस्तर है …….उसकी आँखों में नींद नहीं …* *जिसके मन में दया है ….उसके पास किसी को देने के लिए धन नहीं* …. *और जिसके पास धन है उसके मन में दया नहीं
हर साल 1000 करोड़ का घोटाला करता है राशन माफिया
Image
संभागायुक्त ने किया शहर के नगर निगम पुस्तकालय और वाचनालयों का निरीक्षण
Image