शिवराज का मंत्रीमंडल मप्र के दुर्भाग्य की शुरुआत: श्री जीतू पटवारी

 


शिवराज का मंत्रीमंडल मप्र के दुर्भाग्य की शुरुआत: श्री जीतू पटवारी
पंगु सरकार में मंत्री को नहीं मिले विभाग
कोरोना महामारी में बिना मास्क के लिये शपथ, 
शिवराज जी भूल गए मोदी जी की बात


भोपाल, 21 अप्रैल 2020


प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया अध्यक्ष श्री जीतू पटवारी ने कहा कि शिवराज का मंत्रीमंडल मध्यप्रदेश के दुर्भाग्य की शुरुआत है। शिवराज जी ने पांच लोगों को जगह दी, लेकिन दुख इस बात का है कि पहले नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव जैसे वरिष्ठ को नजरअंदाज किया गया। उन्होंने कहा कि बिकाऊ लोगों के लिये अपने ही लोगो को किनारे कर मंत्री बनाना, लोकतंत्र पर एक गहरा दाग है। श्री पटवरी ने कहा कि एक महीने बाद मंत्रीमंडल बना, उसमें भी विभाग की जगह संभाग दिये गये। लेकिन प्रदेश आज भी स्वास्थ्य मंत्री विहीन है। ये लक्षण पंगु सरकार की स्थिति को प्रदर्शित करता है। उन्होने कहा कि कोरोना महामारी से निपटने के लिए अच्छा होता, जब सरकर नवगत 5 मंत्री को विभाग का मंत्री बनाती ताकि स्वास्थ्य, कृषि, श्रम, रोजगार, गृह समेत अन्य विभागों की जवाबदेही तय होती और प्रदेश के स्थिति में सुधार आता। 
श्री पटवारी ने कहा कि प्रदेश की बिगड़ती स्थिति को देखते हुए शिवराज जी ने पिछले दरवाजे से अपनी सरकार बना ली। लेकिन पंगु सरकार ये नहीं बता पा रही कि प्रदेश का स्वास्थ्य मंत्री कौन है ? अब तक शिवराज सिंह चैहान आम जनता को गुमराह करते आ रहे हैं। प्रदेश की स्थिति भयावह होती जा रही है, कोरोना के संक्रमण को रोकने में शिवराज सरकार असफल हैं। श्री पटवारी ने कहा कि इस महामारी के दौर में भाजपा का अंतर्कलह मध्यप्रदेश के भविष्य को चैपट कर देगा। उन्होंने कहा कि यदि 5 लोगों को मंत्री बनाया जा सकता है तो 28 को क्यों नहीं..? श्री पटवारी ने कहा कि ऑपरेशन लोटस के तीन मुख्य किरदार थे, अब शिवराज ने सब को लोटस की जड़ में धकेल दिया है।
कांग्रेस मीडिया प्रभारी श्री पटवारी ने कहा कि भाजपा कोरोना संक्रमण से आम जनता को बचाने के लिए महाज्ञान देती है। लेकिन उसका पालन खुद नहीं करती। उन्होंने कहा कि विभीषण की पद-लालसा के कारण कमलनाथ जी जैसे विजनरी मुख्यमंत्री से वंचित होकर शिवराज जैसे नकारा सीएम को जनता की मर्जी के विपरीत कुछ समय के लिए प्रदेश को कई समस्याएं झेलनी पड़ेंगी। साथ ही मजबूर मुख्यमंत्री का आधा-अधूरा अयोग्य मंत्रीमंडल कोरोना महामारी एवं वित्तिय स्थिति में प्रदेश को गर्त में ले जाएगा।


 


Popular posts
ग्रामीण आजीविका मिशन मे भ्रष्टाचार की फिर खुली पोल, प्रशिक्षण के नाम पर हुआ घोटाला, एनसीएल सीएसआर मद से मिले 12 लाख डकारे
Image
आंसू" जता देते है, "दर्द" कैसा है?* *"बेरूखी" बता देती है, "हमदर्द" कैसा है?*
कान्हावाड़ी में बनेगी अनूठी नक्षत्र वाटिका, पूर्वजों की याद में लगायेंगे पौधे* *सांसद डीडी उइके एवं सामाजिक कार्यकर्ता मोहन नागर ने कान्हावाड़ी पहुँचकर किया स्थल निरीक्षण
Image
कुदरत का कहर भी जरूरी था साहब, वरना हर कोई खुद को खुदा समझ रहा था*  - दिनेश साहू
Image
अगर आप दुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा दुखी रहेंगे और सुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा सुखी रहेंगे
Image