पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जी ने ग़रीब- बेबस - लाचार मज़दूर भाइयों की मदद के लिये की अपील -

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जी ने ग़रीब- बेबस - लाचार मज़दूर भाइयों की मदद के लिये की अपील -


मै एक बार फिर प्रदेश के समस्त कांग्रेसजनो , जनप्रतिनिधियो, समाजसेवी संस्थाओ , धार्मिक संगठनो से अपील करता हूँ कि प्रदेश के प्रमुख मार्ग , हमारी सीमाएँ ,अपनी घर वापसी के लिये निकले हज़ारों मज़दूर भाइयों से भरी पड़ी हुई है।
कोई पैदल , कोई साईकल पर , कोई ऑटो पर , कोई अन्य साधन से ,कोई नंगे बदन , कोई नंगे पैर , अपने बच्चों , बुजुर्ग माता पिता को लिये , भूखे-प्यासे , भीषण गर्मी व लू में , अपनी जान की परवाह किये बग़ैर अपनी मंज़िल की और चला जा रहा है।
प्रतिदिन इनमे से कई मौत के आग़ोश में समा रहे है।
जरूरतमंद इन मज़दूरों से राह में मनमर्ज़ी का किराया वसूला जा रहा है , इन्हें ठगा जा रहा है , ये बेबस- लाचार , असहाय मज़दूर सब कुछ सहन कर रहे है क्योंकि इनकी कोई सुध लेने वाला नहीं है , इन्हें हर हाल में अपने घर पहुँचना है। क्योंकि इनके पास रोज़ी-रोटी का कोई साधन नहीं है।
सरकार व सरकार का कोई नुमाइंदा ना इनकी सुध ले रहा है , ना इनकी मदद कर रहा है।सिर्फ़ हवा-हवाई दावे व घोषणाएँ की जा रही है।मैदान से सब नदारद है। इनकी तस्वीरें रोज़ सभी के सामने आ रही है लेकिन सरकार गूँगी-बहरी बनी हुई है।
आप सभी इनकी मदद करे।


मैं कांग्रेस परिवार के सभी सदस्यों से भी अपील करता हूँ कि आप सभी इन मज़दूर भाइयों की मदद के लिये इन प्रमुख मार्गों पर अपने वाहन लेकर निकल पड़े। भूखे- प्यासे इन मज़दूर भाइयों को खाना उपलब्ध कराये , नंगे बदन व नंगे पैर सफ़र कर रहे इन मज़दूरों को कपड़े , जूते- चप्पल उपलब्ध कराये , अपने - अपने वाहनो को , साधनो को इन मज़दूर भाइयों के लिये प्रमुख मार्गों पर लगा दे , अपने वाहनो में इन्हें बैठाये , इन्हें ससम्मान इनके घर तक , मंज़िल तक पहुँचाये।इनकी सभी आवश्यक मदद करे।
यह मानवता , इंसानियत व परोपकार का कार्य है , हमारी संस्कृति घर आये हर मेहमान के स्वागत-सत्कार की है , प्रदेश वापसी आये इन मज़दूरों का मेहमानो की तरह सत्कार करे , इन्हें भूखा-प्यासा ना रहने दे , इनका पेट भरे , इन्हें अपने वाहनो से इनके घर तक सकुशल , सुरक्षित पहुँचाये।


Popular posts
कोरोना के एक वर्ष पूरे आज ही के दिन चीन में कोरोना का पहला केस मिला था
Image
ग्राम बादलपुर में धान खरीदी केंद्र खुलवाने के लिये बैतूल हरदा सांसद महोदय श्री दुर्गादास उईके जी से चर्चा करते हुए दैनिक रोजगार के पल के प्रधान संपादक दिनेश साहू
Image
मध्यप्रदेश के मेघनगर (झाबुआ) में मिट्टी से प्रेशर कुकर बन रहे है
Image
बैतूल पाढर चौकी के ग्राम उमरवानी में जुआ रेड पर जबरदस्त कार्यवाही की गई
Image
तुम भी अपना ख्याल रखना, मैं भी मुस्कुराऊंगी। इस बार जून के महीने में मां, मैं मायके नहीं आ पाऊंगी ( श्रीमती कामिनी परिहार - धार / मध्यप्रदेश)
Image