सारणी में आदिवासी महिला महाविद्यालय खोली जाय - श्रीमती शम्मी मर्सकोले*

वीरेंद्र झा/ *सारणी * श्रीमती शम्मी मर्सकोले आदिवासी महिला नेत्री एवं अध्यक्ष विजयलक्ष्मी आजीविका स्व सहायता समूह एक प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से मध्यप्रदेश शासन से मांग की है कि सारणी जिला बैतूल में आदिवासी महिला महा विद्यालय खोली जाए। उन्होंने बताया कि सारणी में आदिवासी महिला महाविद्यालय खुलने से विक्रमपुर ग्राम पंचायत, बाकुड ग्राम पंचायत , जाम खोदर ग्राम पंचायत, लोनिया ग्राम पंचायत, खैरवानी ग्राम पंचायत के लगभग 20 _ 25 गांव की आदिवासी छात्राओं को उच्च शिक्षा की सुविधा मिलेगी। अभी वर्तमान में निवास स्थान से दूरदराज महाविद्यालय का होना एवं आवागमन की उपयुक्त सुविधा ना होने के कारण सैकड़ों आदिवासी छात्राएं उच्च शिक्षा से प्रतिवर्ष वंचित रह जाती है । इस क्षेत्र के आदिवासी वर्ग के सर्वांगीण विकास हेतु आदिवासी महिलाओं को उच्च शिक्षा प्राप्ति की नितांत आवश्यकता है ।


Popular posts
आंसू" जता देते है, "दर्द" कैसा है?* *"बेरूखी" बता देती है, "हमदर्द" कैसा है?*
मध्यप्रदेश के मेघनगर (झाबुआ) में मिट्टी से प्रेशर कुकर बन रहे है
Image
ग्रामीण आजीविका मिशन मे भ्रष्टाचार की फिर खुली पोल, प्रशिक्षण के नाम पर हुआ घोटाला, एनसीएल सीएसआर मद से मिले 12 लाख डकारे
Image
कान्हावाड़ी में बनेगी अनूठी नक्षत्र वाटिका, पूर्वजों की याद में लगायेंगे पौधे* *सांसद डीडी उइके एवं सामाजिक कार्यकर्ता मोहन नागर ने कान्हावाड़ी पहुँचकर किया स्थल निरीक्षण
Image
भगवान पार ब्रह्म परमेश्वर,"राम" को छोड़ कर या राम नाम को छोड़ कर किसी अन्य की शरण जाता हैं, वो मानो कि, जड़ को नहीं बल्कि उसकी शाखाओं को,पतो को सींचता हैं, । 
Image