आज फादर्स डे पर बेटी ने दी अपने पिता को मुखाग्नि


कहते हैं भाग्य का लिखा कोई नहीं मिटा सकता किसी बेटी ने कभी नहीं सोचा होगा कि फादर्स डे के ही दिन उसे अपने पिता का मुखाग्नि देना पड़ सकता है परंतु आज ऐसा हुआ म.प्र. के अलीराजपुर जिले के जोबट में पूर्व प्राचार्य नरेंद्र त्रिवेदी को उनकी बेटी ने दी मुखाग्नि



(सुनील जोशी जोबट/ अलीराजपुर)-


जोबट के इतिहास में पहली बार किसी लड़की ने अपने पिता को मुखाग्नि दी । जोबट के पूर्व बी ई ओ नरेंद्र त्रिवेदी का कल लंबी बीमारी के बाद देवलोक गमन हो गया था उनकी एकमात्र पुत्री अर्पिता नरेंद्र त्रिवेदी ने डोही नदी के किनारे बने मुक्तिधाम पर अपने पिता को मुखाग्नि दी श्री नरेन्द्र त्रिवेदी अपने कठोर अनुशासन के लिए जाने जाते थे |उनकी हेअर स्टाइल उस समय के फिल्मी हीरो डेनी की तरह थी जैसा कि बच्चों में होता हैए वो शिक्षक के उप नाम रख देते है उस समय उन्हें बच्चों के बीच डेनी नाम से जाना जाता था


Popular posts
मध्यप्रदेश के मेघनगर (झाबुआ) में मिट्टी से प्रेशर कुकर बन रहे है
Image
अगर आप दुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा दुखी रहेंगे और सुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा सुखी रहेंगे
Image
भगवान पार ब्रह्म परमेश्वर,"राम" को छोड़ कर या राम नाम को छोड़ कर किसी अन्य की शरण जाता हैं, वो मानो कि, जड़ को नहीं बल्कि उसकी शाखाओं को,पतो को सींचता हैं, । 
Image
कान्हावाड़ी में बनेगी अनूठी नक्षत्र वाटिका, पूर्वजों की याद में लगायेंगे पौधे* *सांसद डीडी उइके एवं सामाजिक कार्यकर्ता मोहन नागर ने कान्हावाड़ी पहुँचकर किया स्थल निरीक्षण
Image
एक ऐसी महान सख्सियत की जयंती हैं जिन्हें हम शिक्षा के अग्रदूत नाम से जानते हैं ।वो न केवल शिक्षा शास्त्री, महान समाज सुधारक, स्त्री शिक्षा के प्रणेता होने के साथ साथ एक मानवतावादी बहुजन विचारक थे। - भगवान जावरे
Image