चूहा अगर पत्थर का हो तो* सब उसे पूजते हैं* मगर जिन्दा हो तो मारे बिना* चैन नहीं लेते हैं*

. *चूहा अगर पत्थर का हो तो*


*सब उसे पूजते हैं* ¶


*मगर जिन्दा हो तो मारे बिना*


*चैन नहीं लेते हैं* ¶


*साँप अगर पत्थर का हो*


*तो सब उसे पूजते हैं* ¶


*मगर जिन्दा हो तो उसी वक़्त*


*मार देते हैं* ¶


*माँ बाप अगर "तस्वीरों" में हो*


*तो सब पूजते हैं* ¶


*मगर जिन्दा है तो कीमत नहीं*


*समझते"* ¶


*बस यही समझ नहीं आता के*


*ज़िन्दगी से इतनी नफरत क्यों* ¶


*और* ¶


*पत्थरों से इतनी मोहब्बत क्यों* ¶


*जिस तरह लोग मुर्दे इंसान को*


*कंधा देना पुण्य समझते हैं​* ¶


*काश" इस तरह' ज़िन्दा" इंसान*


*को सहारा देंना पुण्य समझने*


*लगे तो ज़िन्दगी आसान हो*


*जायेगी​* ¶ *


Popular posts
बैतूल पाढर चौकी के ग्राम उमरवानी में जुआ रेड पर जबरदस्त कार्यवाही की गई
Image
ग्रामीण आजीविका मिशन मे भ्रष्टाचार की फिर खुली पोल, प्रशिक्षण के नाम पर हुआ घोटाला, एनसीएल सीएसआर मद से मिले 12 लाख डकारे
Image
ग्राम बादलपुर में धान खरीदी केंद्र खुलवाने के लिये बैतूल हरदा सांसद महोदय श्री दुर्गादास उईके जी से चर्चा करते हुए दैनिक रोजगार के पल के प्रधान संपादक दिनेश साहू
Image
रायसेन में डॉ राधाकृष्णन हायर सेकंडरी स्कूल के पास मछली और चिकन के दुकान से होती है गंदगी नगर पालिका प्रशासन को सूचना देने के बाद भी नहीं हुई कोई कार्यवाही
कान्हावाड़ी में बनेगी अनूठी नक्षत्र वाटिका, पूर्वजों की याद में लगायेंगे पौधे* *सांसद डीडी उइके एवं सामाजिक कार्यकर्ता मोहन नागर ने कान्हावाड़ी पहुँचकर किया स्थल निरीक्षण
Image