तेंदूपत्ता संग्राहकों को समय पर मजदूरी भुगतान के प्रभारी मंत्री मीना सिंह ने दिए निर्देश

 


उमरिया - प्रदेश शासन की आदिम जाति कल्याण मंत्री तथा जिला प्रभारी मंत्री सुश्री मीना सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार की मंशा है कि कोरोना सक्रमण के कारण जारी लाक डाउन के कारण श्रमिको को आर्थिक परेशानियों का सामना नही करना पड़ेए इसके लिए प्रदेश सरकार द्वारा विभिन्न योजनाओं के माध्यम से श्रमिको के खातों में पैसे जमा कराए जा रहे है। प्रदेश सरकार द्वारा तेंदूपत्ता संग्राहक तथा लघु वनोपज संग्रहण के माध्यम से भी लोगों को रोजगार दिया जा रहा है। जिले में 86 हजार मानक बोरा तेंदू पत्ता संग्रहण का लक्ष्य रखा गया था जिसमें से 71 लाख मानक बोरा तेंदू पत्ता संग्रहण का कार्य किया गया है । तेंदू पत्ता संग्राहको के खातों में 11 करोड 62 लाख रूपये का मजदूरी भुगतान किया गया है। आपने वनमण्डलाधिकारी को तेंदू पत्ता संग्रहण की वर्ष 2018 की बोनस राशि के वितरण के निर्देश दिए।


बैठक मे विधायक बांधवगढ विधानसभा क्षेत्र शिवनारायण सिंहए कलेक्टर संजीव श्रीवास्तवए पुलिस अधीक्षक सचिन शर्माए वनमण्डलाधिकारी आर एस सिकरवारए सीईओ जिला पंचायत अंशुल गुप्ताए एसडीएम बांधवगढ अनुराग सिंहए सहायक आयुक्त आदिवासी विकास आंनद राय सिन्हाए दिलीप पाण्डेयए मुख्य नगर पालिका अधिकारी एस के गढपालेए कार्यपालन यंत्री विद्युत विभाग एल के नामदेव ए एसईसीएल के अधिकारी उपस्थित रहे। प्रभारी मंत्री ने एसईसीएल के अधिकारियों को निर्देशित किया कि कोल माइंस के पानी को फिल्टर कर पेयजल के लिए उपलब्ध कराया जाए। वनाधिकार के जो दावे निरस्त किए गए है उनका पुनः परीक्षण ग्राम सभा के माध्यम से कराया जाएए इसके लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किये जाएनगरीय क्षेत्रों में साफ सफाई की पर्याप्त व्यवस्था रखी जाए तथा बिजली की उपलब्धता एवं समय पर ट्रांसफार्मर बदलने की कार्यवाही की जाए।


Popular posts
आज हेहल सरना समिति के कुछ लोगों ने मोहल्ले में सबको चावल दाल सब्जी का वितरण किया
Image
अगर आप दुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा दुखी रहेंगे और सुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा सुखी रहेंगे
Image
कान्हावाड़ी में बनेगी अनूठी नक्षत्र वाटिका, पूर्वजों की याद में लगायेंगे पौधे* *सांसद डीडी उइके एवं सामाजिक कार्यकर्ता मोहन नागर ने कान्हावाड़ी पहुँचकर किया स्थल निरीक्षण
Image
एक ऐसी महान सख्सियत की जयंती हैं जिन्हें हम शिक्षा के अग्रदूत नाम से जानते हैं ।वो न केवल शिक्षा शास्त्री, महान समाज सुधारक, स्त्री शिक्षा के प्रणेता होने के साथ साथ एक मानवतावादी बहुजन विचारक थे। - भगवान जावरे
Image
कोरोना के एक वर्ष पूरे आज ही के दिन चीन में कोरोना का पहला केस मिला था
Image