बड़ी खबर : झारखंड में पूर्ण लॉकडाउन की खबर अफवाहए सरकार ने अफवाहों को सिरे से खारिज किया

15 जुलाई से लॉकडाउन की खबरे केवल अफवाह है. राज्य के लोगो को ऐसी खबरों से आशंकित होने की कोई जरुरत नहीं है.


 


झारखंड में 15 जुलाई से संपूर्ण लॉकडाउन की खबरों पर राज्य सरकार ने स्थिति साफ़ करते हुए ऐसे किसी लॉकडाउन से साफ़ इंकार किया है. राज्य सरकार में वित्तमंत्री रामेश्वर उरांव ने 15 जुलाई से टोटल लॉकडाउन की खबरों को सिरे से खारिज करते हुए इसे अफवाह बताया है. रामेश्वर उरांव ने साफ कहा है कि जरुरत पड़ी तो जिन क्षेत्रों में संक्रमण तेजी से फैल रहा हैए वहां सख्ती बढ़ाई जा सकती है. मसलन मास्क ना पहननेए सामाजिक दूरी का पालन नहीं करने पर दंड बढ़ाया जा सकता है. मगर फिलहाल लॉकडाउन जैसी कोई योजना राज्य सरकार की नहीं है. उल्लेखनीय है कि बीते कुछ दिनों से व्हाट्सप्प के जरिये एक मैसेज तेजी से वायरल हो रहा थाए जिसमे 15 जुलाई से झारखंड में संपूर्ण लॉकडाउन लगाने की बात कही गयी थी. वायरल मैसेज में दावा किया गया था कि राज्य सरकार ने 15 जुलाई से संपूर्ण लॉकडाउन का फैसला कर लिया है. इस बीच एक दैनिक अखबार ने भी "48 घंटे में कम्पलीट लॉकडाउन!" शीर्षक के जरिये वित्तमंत्री का एक पक्ष पेश करने की कोशिश की थीए जिसमे वित्तमंत्री रामेश्वर उरांव ने उन क्षेत्रों में सख्ती बढ़ाने के संकेत दिए थेए जहां कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है. हालांकि अब राज्य सरकार ने साफ कह दिया है 15 जुलाई से लॉकडाउन की खबरे केवल अफवाह है. राज्य के लोगो को ऐसी खबरों से आशंकित होने की कोई जरुरत नहीं 


Popular posts
ग्रामीण आजीविका मिशन मे भ्रष्टाचार की फिर खुली पोल, प्रशिक्षण के नाम पर हुआ घोटाला, एनसीएल सीएसआर मद से मिले 12 लाख डकारे
Image
बैतूल पाढर चौकी के ग्राम उमरवानी में जुआ रेड पर जबरदस्त कार्यवाही की गई
Image
मोहम्मद शमी ने कहा, निजी और प्रोफेशनल मसलों की वजह से 'तीन बार आत्महत्या करने के बारे में सोचा'
Image
दैनिक रोजगार के पल परिवार की तरफ से समस्त भारतवासियों को दीपावली पर्व की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं
Image
मामला लगभग 45 लाख की ऋण राशि का है प्राथमिक कृषि सेवा सहकारी समिति मर्यादित चोपना के लापरवाही का नतीजा भुगत रहे हैं गरीब किसान