भाजपा द्वारा जनादेश प्राप्त कांग्रेस सरकार को अस्थिर करने की प्रयासों की घोर निंदा ---- जनप्रतिनिधियों को प्रलोभित प्रताड़ित और गुमराह करके प्रजातंत्र को शर्मसार किया ---- कांग्रेस विधायक दल की बैठक में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित

 


भाजपा द्वारा जनादेश प्राप्त कांग्रेस सरकार को अस्थिर करने की प्रयासों की घोर निंदा
----
जनप्रतिनिधियों को प्रलोभित प्रताड़ित और गुमराह करके प्रजातंत्र को शर्मसार किया
----
कांग्रेस विधायक दल की बैठक में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित


भोपाल, 
 मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ की अध्यक्षता में आज मुख्यमंत्री निवास पर हुई कांग्रेस विधायक दल की बैठक में भारतीय जनता पार्टी द्वारा जनादेश प्राप्त कांग्रेस की सरकार को अस्थिर करने के प्रयासों की घोर निंदा करते हुए एक प्रस्ताव पारित किया गया। प्रस्ताव में कहा गया कि भाजपा ने प्रजातंत्र को शर्मसार करते हुए जनप्रतिनिधियों को प्रलोभित, प्रताड़ित और गुमराह करके प्रजातंत्र को शर्मसार किया है। यह प्रस्ताव संसदीय कार्य मंत्री डॉ. गोविंद सिंह ने विधायक दल की बैठक में रखा।
 प्रस्ताव में कहा गया कि लोकतांत्रिक मूल्यों की अवमानना करते हुए भाजपा ने मध्यप्रदेश की साढ़े सात करोड़ नागरिकों की अपेक्षाओं और आकांक्षाओं का कुठाराघात करने की कोशिश की है जो वेहद निंदनीय है। प्रस्ताव में कहा गया कि मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ के नेतृत्व में सरकार ने प्रदेश को माफियामुक्त बनाने के लिए संगठित अपराधियों, मिलावटखोरों के खिलाफ जो अभियान छेड़ा वह भाजपा को रास नहीं आया क्योंकि उनके पंद्रह साल के कार्यकाल में भी यह पूरा माफिया पले और पोषित हुए। यही नहीं 14 माह के शासन में कांग्रेस सरकार ने ई-टेंडर, पौधरोपण, बुंदेलखंड पैकेज में भारतीय जनता पार्टी द्वारा किए गए भीषणतम भ्रष्टाचार पर कार्यवाही प्रारंभ की। इससे भाजपा में भय व्याप्त हो गया और उसने कांग्रेस सरकार के खिलाफ षड़यंत्र रचना शुरु कर दिया।
 प्रस्ताव कहा गया भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने पहले कुछ कांग्रेस के और निर्दलीय विधायकों को प्रलोभित किया। उन्हें निजी विमान से दिल्ली और बैंगलौर ले जाकर मध्यप्रदेश की कांग्रेस सरकार के खिलाफ साजिश रची जब वे इसमें सफल नहीं हुए तो उन्होंने दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया की व्यक्तिगत महत्वाकांक्षाओं का तुष्टिकरण करते हुए प्रजातंत्र के सारे नैतिक मूल्यों को ताक में रखकर कांग्रेस सरकार को मिले जनादेश को अपमानित और कंलकित करने की कुचेष्टा की गई। जिसकी कांग्रेस विधायक दल घोर भर्त्सना करता है।
 प्रस्ताव में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी के अध्यक्षा का आभार व्यक्त किया कि उन्होंने श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया। विधायक दल ने मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ के नेतृत्व के प्रति निष्ठा व्यक्त करते हुए कहा कि कांग्रेस के सभी विधायक इस बात के लिए दृढ़ प्रतिज्ञ हैं कि उनके नेतृत्व में मध्यप्रदेश को प्रगति के मार्ग पर ले जाएंगे और मध्यप्रदेश को देश के अग्रणी राज्यों की श्रेणी में लाकर खड़ा करेंगे।
 बैठक में प्रस्ताव को सभी विधायकों ने एक स्वर में सर्वसम्मति से पारित किया।
 इस मौके पर पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ राजनेता श्री दिग्विजय सिंह, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव और प्रभारी मध्यप्रदेश श्री सुधांशु त्रिपाठी, पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्री अरुण यादव एवं सांसद श्री विवेक तन्खा उपस्थित थे।
न्द्र््र


Popular posts
अगर आप दुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा दुखी रहेंगे और सुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा सुखी रहेंगे
Image
माँ कर्मा देवी जयंती की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं- दिनेश साहू प्रवक्ता मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी
Image
मध्यप्रदेश के मेघनगर (झाबुआ) में मिट्टी से प्रेशर कुकर बन रहे है
Image
भगवान पार ब्रह्म परमेश्वर,"राम" को छोड़ कर या राम नाम को छोड़ कर किसी अन्य की शरण जाता हैं, वो मानो कि, जड़ को नहीं बल्कि उसकी शाखाओं को,पतो को सींचता हैं, । 
Image
माता शबरी का चरित्र अनुकरणीय- मंत्री श्री जयवर्धन सिंह गौरव की बात - मंत्री श्री मरकाम, ब्यावरा में माता शबरी जन्म उत्सव में सम्मिलित हुए मंत्री द्वय