बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने अपनी पार्टी के नेताओं से कहा है कि वे कोरोना संक्रमण को धार्मिक रंग न दें.


दिल्ली में तब्लीगी जमात के मरकज़ में हुए कार्यक्रम से कोरोना फैलने की खबरों के बाद जेपी नड्डा का ये बयान आया है. रिपोर्टों के मुताबिक देश में कोरोना संक्रमण के कुल मामलों में से एक चौथाई तब्लीगी जमात से जुड़े हैं. गुरुवार शाम पार्टी के राष्ट्रीय पदाधिकारियों के साथ हुई बैठक में उन्होंने कहा कि पार्टी का कोई भी नेता उकसाने वाला या विभाजन करने वाला बयान न दे. बैठक में शामिल एक पदाधिकारी ने अख़बार को बताया कि नड्डा ने बैठक में कहा, "वायरस और इस बीमारी ने दुनियाभर में सभी धर्मों के लोगों को बराबर प्रभावित किया है, कोई भी ऐसा बयान न दे या टिप्पणी न करे जो उकसाने वाला हो. हमें वायरस के खिलाफ लड़ाई में एकजुट रहना है."