घर घर जले दीपक ऐसा लग रहा था जैसे दीपावली का त्यौहार मना रहे

घर घर जले दीपक ऐसा लग रहा था जैसे दीपावली का त्यौहार मना रहे


बोङा-: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर कोरोना महामारी के चलते लॉकडाउन मैं 5 अप्रैल रात्रि को नगर में रात्रि 9:00 बजे प्रत्येक घर नो नो दीपक मोमबत्ती जलाए गए वही मोबाइल फ्लैश टॉर्च भी जलाए गए इस दौरान कुछ लोगों द्वारा दीपक जलाने के साथ-साथ आतिशबाजी भी की गई घरों की लाइट बंद कर नागरिकों द्वारा दीपक जलाने के दौरान ऐसा लग रहा था मानो दीपावली का त्यौहार मनाया जा रहा है प्रत्येक घर उत्साह का माहौल बना हुआ था एक साथ दीए जलाकर नागरिकों ने एकता का परिचय दिया एवं प्रधानमंत्री मोदी जी के साथ होने का परिचय भी दीया।



भाजपा द्वारा मनाया गया पार्टी का स्थापना दिवस


बोड़ा-: भारतीय जनता पार्टी द्वारा भाजपा मंडल कार्यालय पर 6 अप्रैल सोमवार को पार्टी का स्थापना दिवस मनाया गया इस दौरान वरिष्ठ नेता विष्णु प्रसाद गुदेनिया एवं डॉ प्रताप सिंह राजपूत द्वारा पार्टी का झंडा रह गया तत्पश्चात उपस्थित कार्यकर्ताओं द्वारा पार्टी के पित्र पुरुष पंडित दीनदयाल के चित्र पर माल्यार्पण किया गया इस दौरान मंडल अध्यक्ष राधेश्याम राजपूत सतीश पाटीदार संजयराठौर चंद्र रुहेला गोविंद सेन विकास कसेरा माखन जाटव आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे।



 गरीब एवं निर्धन परिवारों में पहुँचा रहे खाद्य सामग्री के पेकेट



बोड़ा:- विभिन्न समाज सेवी संगठनों के माध्यम से नगर में न सिर्फ शहरी छेत्र बल्कि गांव के  बहार रह रहे लोग,व बहार से आकर रह रहे लोग को  


स्थनीय  समाज सेवी द्वारा भोजन की व्यवस्था कराई जा रही है प्रतिदिन सुबह शाम भोजन के पेकेट वितरण किये जा रहे है। सभी जगह लोग सहयोग कर रहे है।ऐसे ज़रूरतमंद लोग जिनकी लॉक डाउन के चलते रोजी रोटी के साधन बंद है ।ऐसे लोगो की सहायता के लिये शहर के  ब्राईट केरियर पब्लिक हायर सेकंडरी स्कूल बोड़ा के संचालक राजेंद्रसुमन


 प्राचार्य आर.सी.बैरागी, श्यामसुंदर वैष्णव, नवीनशर्मा सुनीलवैष्णव राजेशजोशी वीरेन्द्रवैष्णव राहुलराठौर मनोजपुष्पद के माध्यम से शहर में लगभग 100 जरूरतमन्द परिवारों को  राशन पहुचाया गया।


इसमें गेंहू का आटा ,दाल,नमक ,मिर्ची ,तेल , हरि सब्जी आदि अन्यसामग्री रखी गयी, जिन्हें भी जरूरत लगी और सदस्यों के द्वारा जरूरतमंद घरों में यह खाद्य सामग्री पहुंचायी।



जात पात का नही है भेद भाव 


बोड़ा शहर को आपसी सामंजस्य को लेकर पहले से ही जाना जाता है 


इसकी कई मिशाल शहर ने दी ।कोरोना वायरस के बाद अब ओर भी जात पात ,धर्म भूलकर सभी  समाज के लोग सिर्फ इंसानियत पर काम कर रहे है और भोजन सामग्री पहुंचा रहे है


Popular posts
घुटने टेकना' पहले सजा थी, अब 'घुटने टेके' तो सजा मिल गयी
ग्राम बादलपुर में धान खरीदी केंद्र खुलवाने के लिये बैतूल हरदा सांसद महोदय श्री दुर्गादास उईके जी से चर्चा करते हुए दैनिक रोजगार के पल के प्रधान संपादक दिनेश साहू
Image
कुजू कोयला मंडी में रामगढ़ पुलिस का छापा कैफ संचालक समत दो हिरासत में
कान्हावाड़ी में बनेगी अनूठी नक्षत्र वाटिका, पूर्वजों की याद में लगायेंगे पौधे* *सांसद डीडी उइके एवं सामाजिक कार्यकर्ता मोहन नागर ने कान्हावाड़ी पहुँचकर किया स्थल निरीक्षण
Image
वर्तमान बैतूल जिले की कोरोना मरीजो की संख्या में ग्रामीण मीडिया के पास प्राप्त आंकड़ों अनुसार-