घोड़ाडोंगरी पुलिस ने राशन लेने पहुंचे लोगों को मास्क वितरित किए,घोड़ाडोंगरी चौकी प्रभारी रवि शाक्य. स्टाफ सदस्य ब्रह्मदेव मिश्रा. संजेश धुर्वे. मुकेश बियारसे.कैलाश हड़ने. द्वारा लोगों को लॉक डाउन का पालन करने की समझाईश दी गई - आशीष पेंढारकर

घोड़ाडोंगरी पुलिस ने राशन लेने पहुंचे लोगों को मास्क वितरित किए,घोड़ाडोंगरी चौकी प्रभारी रवि शाक्य.
स्टाफ सदस्य ब्रह्मदेव मिश्रा. संजेश धुर्वे. मुकेश बियारसे.कैलाश हड़ने. द्वारा लोगों को लॉक डाउन का पालन करने की समझाईश दी गई - आशीष पेंढारकर


घोड़ाडोंगरी पुलिस ने राशन लेने उचित मूल्य दुकान आए गरीब लोगों में मास्क वितरित किए। चौकी प्रभारी रवि शाक्य के साथ स्टाफ के ब्रह्मदेव मिश्रा ,राम सुमेर जयसवार, संजेश धुर्वे, मुकेश बियारसे,कैलाश ,उषा ठाकुर ने लोगों को मास्क बाँटकर लॉक डाउन का पालन करने के बारे में समझाइए दी।लोगों को समझाया कि उन्हें कोरोना से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना है। इसके साथ मॉस्क का उपयोग भी जरूरी है। प्रतिदिन धोकर ही मास्क का उपयोग करना है। बेवजह नहीं घूमने के बारे में भी समझाइश दी। नगर की श्रीमती नेहा प्रशांत खातरकर और श्रीमती हर्षा आशीष अग्रवाल ने अपने हाथ से मास्क घर मे ही बनाए


इन महिलाओं ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी जी द्वारा 14 अप्रैल को हाथ से बने मास्क बनाकर उपयोग करने की अपील से उन्हें मास्क बनाने की प्रेरणा मिली। लॉक डाउन के दौरान पुलिस की अच्छी कार्यशैली और उनके लगातार एक्टिव रहने के कारण लॉक डाउन के हो रहे पालन से उनकी इच्छा थी। पुलिस के माध्यम से मास्क लोगों तक पहुंचे। गृहणियों का मानना है कि पुलिस के कारण ही अधिकांश लोग लॉक डालने का सही पालन कर पा रहे हैं। जो आम जनता के हित में है भय से ही सही लोग अपने घरों में है।देश मे दिन प्रतिदिन बढ़ रहे कोरोना के मरीजो के बीच अगर अपनी घोड़ाडोंगरी सुरक्षित है तो इसमें घोड़ाडोंगरी चौकी प्रभारी रवि शाक्य ओर स्टाफ की अहम भूमिका है


Popular posts
माँ कर्मा देवी जयंती की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं- दिनेश साहू प्रवक्ता मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी
Image
शत्रु ये अदृश्य है विनाश इसका लक्ष्य है - शरद गुप्ता /इंस्पेक्टर मुम्बई पुलिस
Image
बैतूल पाढर चौकी के ग्राम उमरवानी में जुआ रेड पर जबरदस्त कार्यवाही की गई
Image
एक ऐसी महान सख्सियत की जयंती हैं जिन्हें हम शिक्षा के अग्रदूत नाम से जानते हैं ।वो न केवल शिक्षा शास्त्री, महान समाज सुधारक, स्त्री शिक्षा के प्रणेता होने के साथ साथ एक मानवतावादी बहुजन विचारक थे। - भगवान जावरे
Image
बेवजह घर से निकलने की,  ज़रूरत क्या है | मौत से आंख मिलाने  की,  ज़रूरत क्या है || भगवान जावरे