जिला जनसंपर्क कार्यालय उमरिया समाचार  कलेक्टर ने मदद हेतु लिखा पत्र 

जिला जनसंपर्क कार्यालय उमरिया
समाचार 
कलेक्टर ने मदद हेतु लिखा पत्र
उमरिया 7 अप्रैल-  विष्व व्यापरीसंक्रमण नोवल कोरोना वायरस कोविड 19 के कारण 14 अप्रैल 2020 तक लाक डाउन घोषित किया गया है ।कलेक्टर स्वरोचिष सोमवंषी के संज्ञान मे यह बात आई है कि लाक डाउन के कारण जिले के नागरिक प्रदेष के बाहर फंसे हुए है जिनकी मदद हेतु कलेक्टर उमरिया ने आई सी पी केषरी आई ए एस अपर मुख्य सचिव मध्यप्रदेष शासन को पत्र लिखा है। जो व्यक्ति प्रदेष के बाहर फंसे हुए है उसमें अनुभव शर्मा पिता रमेष शर्मा एलआईजी 40 सेक्टर 1 शंकर नगर रायपुर छग इनकी माता एव पिता रायपुर छग में जिनकी तबियत खराब है इसलिए ये उमरिया से रायपुर छग मे आना है।  इसी तरह महेष पिता भगवान दास ग्राम केल्हारी सहित 18 व्यक्ति सभी रोजगार की तलाष में जयपुर राजस्थान गये थे ,लाक डाउन के कारण फंसे हुए है इनके रहने खाने पीने की कोई उचित व्यवस्था नही हो पा रही है। 
क्र079
जन अभियान परिषद् से जुड़े लोगों ने दीवार लेखन कर बचाव हेतु चलाया जा रहा जागरूकता अभियान
फोटो 01
उमरिया 7 अप्रैल.जिले में आमजन को कैरोना वायरस के संक्रमण से बचाव हेतु सोसल डिस्टेसिंग का पालन करने, चेहरे, आंख, नाक आदि में बार बार हाथ नहीं लगाने, बार बार हाथ साबुन पानी से धोने, बिना आवश्यक कार्य के घर से बाहर नहीं निकलने आदि की जानकारी दीवार लेखन के माध्यम से दी जा रही है.जन अभियान परिषद् के जिला समन्वयक रवींद्र शुक्ला ने बताया कि जागरूकता अभियान का संचालन दूरस्थ क्षेत्रों में भी किया जायेगा.।
क्र080


उमरिया जिले के मानपुर अनुभाग से लगने वाली राजस्व सीमा को 6 अप्रैल से सील करने के एस डीएम मानपुर ने दिये आदेश 
उमरिया 7  अप्रैल. एस डीएम मानपुर डा योगेश तुकाराम भरसट ने पडोसी जिले कटनी के कैमोर में कोरोना संदिग्ध मिलने की सूचना को देखते हुए कटनी जिले का विजय राघोगढ  अनुभाग का जो क्षेत्र उमरिया जिले के सीमा से लगता है तथा मानपुर बरही बार्डर पर कटनी उमरिया सीमा को सील करने के आदेश दिए हैं जो 6 अप्रैल से रात्रि 10 बजे से प्रभाव सील हो गया है। इस कार्य में आवश्यक सहयोग हेतु आपने अर्द्ध शासकीय पत्र के माध्यम से एस डीएम विजय राघोगढ जिला कटनी से अनुरोध किया है.
क्र081


आपदा से प्रभावित कोई भी व्यक्ति टोल फ्री नंबर 15100पर काल कर मदद मांग सकता है
उमरिया 7 अप्रैल. सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण उमरिया ने अवगत कराया है कि उच्च न्यायालय के निर्देश पर कैरोना प्रभावित लोगों की मदद के लिए टोल फ्री नंबर 15100 शुरू किया गया है जो सप्ताह के सातों दिन चौबीसों घण्टे कार्य करता हैं।
क्र082
कोविड 19 कोरोना वायरस को लेकर 10100 लोगो की हुई स्क्रीनिंग
उमरिया 7 अप्रैल - नोडल अधिकारी कोविड 19 ने बताया कि जिले में कोविड 19 कोरोना वायरस कोलेकर 10100 व्यक्तियो की स्क्रीनिंग की गई है। संभावित मरीजों की संख्या 2 है।                                        भेजे गये सेंपल की संख्या 2 है। पाजीटिव पाये केसे की संख्या तथा हायर सेंटर  में रेफर रोगियो की संख्या 0 है।
क्र083
समर्थन फाउंडेशन पाली कोरोना  संक्रमण के कारण लाकर डाउन के दौरान जन सेवा में आया आगे
फोटो 02
उमरिया 7 अप्रैल. कोरोना संक्रमण के कारण घोषित लाक डाउन के दौरान समर्थन फाउंडेशन पाली व्दारा  लगातार जरूरत मंद लोगों को भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। इसके साथ ही पालतू पशुओं की भी मदद की जा रही है।
क्र084
जूम एप से डीपीसी ने ली सर्व शिक्षा अभियान अमले की बैठक 
फोटो 3
उमरिया 7 अप्रैल-  जूम ऐप के माध्यम से जिला शिक्षा अधिकारी सह जिला परियोजना समन्वयक उमरिया उमश कुमार धुर्वे ने सर्व शिक्षा अभियान के अमले की लाक डाउन का पालन करते हुए,घर में रहते हुए भी बैठक ली।   ज्ञात हो देश में कोरोनावायरस संक्रमण के चलते प्रदेश की समस्त शालाएँ बंद हैं।कार्यालयों को बंद कर घर से काम करने के निर्देश हैं। लाक डाउन के चलते राज्य शिक्षा केंद्र भोपाल ने साथ टीम के सहयोग से जूम ऐप को तैयार किया और मार्च के महीने में इसी एप के माध्यम से नवीन शिक्षा सत्र 2020-21 की तैयारी के निर्देश दिए।     जूम एप्लीकेशन के लिए एक आईडी दी गई जिससे जिले के समस्त विकासखंड शिक्षा अधिकारी,बी आर सी सी, बीएसी,प्रोग्रामर ,एमआईएस समन्वयक, जन शिक्षा केंद्र प्रभारी एवं जन शिक्षक इस आईडी के माध्यम से जूम एप की लिंक से जुड़े और मीटिंग में सहभागी हुए। 
    बैठक के माध्यम से डीईओ एवं डीपीसी उमेश कुमार धुर्वे द्वारा सभी जन शिक्षकों एवं अन्य प्रतिभागियों को निर्देशित किया कि हर जन शिक्षा केंद्र में पालकों के लिए कक्षा 1 से 8 तक के अलग-अलग पी-डीजीएलईपी  ग्रुप बनाएं और विद्यालय के शिक्षकों एवं बच्चों के पालकों को ग्रुप में जोड़ कर राज्य शिक्षा केंद्र के निर्देशानुसार शिक्षण कराने हेतु पठन-पाठन सामग्री उपलब्ध कराएं। उक्त मीटिंग को श्री दीपांशु गुप्ता साथ टीम मेंबर, जिला प्रोग्रामर श्री आर पी पांडेय एवं श्री संजय पांडेय एपीसी अकादमिक ने भी संबोधित किया। साथ ही अन्य लोगों के प्रश्नों का उत्तर देते हुए जन शिक्षा केंद्र वार समीक्षा भी की गई।    उमरिया जिले के समस्त जन शिक्षा केंद्रों में कक्षा 1 से 8 हेतु अलग-अलग ग्रुप का निर्माण किया जा चुका है एवं इसी के माध्यम से वर्तमान में पठन-पाठन कार्य घर में रहते हुए प्रारंभ है।
क्र085
एक अप्रैल से रेडियों स्कूल का शुभारंभ
आकाशवाणी के प्रदेश स्थित सभी केन्द्र कर रहे हैं प्रसारित 
फोटो 4
उमरिया 7 अप्रैल- मध्यप्रदेश के मुख्य मंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने दिनांक 01 अप्रैल 2020 को  रेडियो पर प्रदेश के विद्यार्थियों को प्रेरक कहानी सुनाये। इसी के साथ स्कूल शिक्षा विभाग के विशेष रेडियो कार्यक्रम रेडियो स्कूल का शुभांरभ हुआ। उल्लेखनीय है कि, वर्तमान में कोरोना वायरस से बचाव हेतु लागू किये गए लॉक डाउन की अवधि में भी, प्रदेश के विद्यार्थी अपने घर पर नियमित अध्ययन कर सकें, इस हेतु राज्य शिक्षा केन्द्र  द्वारा विशेष शैक्षिक रेडियो कार्यक्रम रेडियो स्कूल प्रारंभ किया गया है। यह कार्यक्रम बुधवार 1 अप्रैल से, रोजाना 11 बजे से 12 बजे अपरांह तक (सोमवार से शनिवार), आकाशवाणी के प्रदेश स्थित सभी प्राथमिक प्रसारण केंद्रों और विविध भारती केंद्रों से एक साथ प्रसारित प्रसारित होगा। जिससे प्रदेश के विद्यार्थी रेडियो के माध्यम से, घर पर भी नियमित अध्ययन कर सकेंगे।
 स्कूल शिक्षा विभाग के द्वारा सभी विद्यार्थियों से यह कार्यक्रम नियमित सुनकर अपना अध्यययन निरंतर रखने की अपेक्षा की है। इस रेडियों कार्यक्रम के अलावा शिक्षकों के माध्यम से कक्षावार और विषयवार रोचक शैक्षिक सामग्री भी विद्यार्थियों को समय समय पर उपलब्ध कराई जाएगी।
क्र086


कोरोना वायरस से बचाव के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में आयुष औषधियों का वितरण सुनिश्चित करे दृ कमिश्नर 
उमरिया 7 अप्रैल- कमिश्नर रीवा एवं शहडोल संभाग डॉ. अशोक कुमार भार्गव ने आयुष अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि मुख्यमंत्री जी द्वारा दिये गये निर्देशों के अनुरूप कोरोना वायरस के बचाव के लिए प्रतिरोधात्मक उपायों के अन्तर्गत सभी औषधालय क्षेत्रों, ग्राम पंचायतों में आयुर्वेद एवं होम्योपैथी औषधियों का वितरण सुनिश्चित करें। विशेषकर कोरोना से संक्रमित व प्रभावित क्षेत्रों तथा उन क्षेत्रों में जहां प्रवासी मजदूर दूसरे शहरों या प्रदेशों से आये हैं। 
 कमिश्नर डॉ. भार्गव ने निर्देश दिये हैं कि समस्त संभागीय आयुष अधिकारी एवं जिला आयुष अधिकारी अपने क्षेत्रों में प्रति औषधालय के मान से कम से कम दो सदस्यों की पैरामेडिकल टीम बनाये। इसमें से एक सदस्य चिकित्सक भी हो। यह दल अपने क्षेत्र में ग्राम पंचायतों के सरपंच, सचिवों से संपर्क कर उस ग्राम पंचायत में बाहर से आने वाले समस्त मजदूर उनके परिवारों और अन्य ग्रामवासियों को प्रतिरोधात्मक काढ़ा पिलवाने, त्रिकटू के पैकेट वितरित करने तथा होम्योपैथी औषधि आर्सेनिक एल्ब-30 की डोज वितरित करना सुनिश्चित करें। जिला स्तर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी उक्त कार्य के लिए समन्वयक अधिकारी होंगे तथा जिला आयुष अधिकारी जिले के नोडल अधिकारी रहेंगे। जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद स्तर पर कार्य की समीक्षा करेंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी द्वारा उक्त औषधियों के वितरण की समीक्षा प्रतिदिन शाम 4 बजे की जा रही है। अतरू समस्त जिला आयुष अधिकारी शाम को 6 बजे तक जिले में वितरित की गयी औषधियों की जानकारी निर्धारित प्रपत्र में आयुष संचालनालय के उप संचालक डॉ. पी.सी. शर्मा के मोबाइल नंबर 7869176639 तथा ईमेल में प्रेषित करेंगे। 
 कमिश्नर डॉ. भार्गव ने निर्देश दिये कि औषधि वितरण करते समय मास्क, सेनेटाइजर एवं सोशल डिस्टेंसिंग के प्रावधानों का अनिवार्य रूप से पालन किया जाय। औषधि वितरण के कार्य में किसी भी स्तर पर लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी।
क्र087


संभाग में कोरोना वायरस से बचाव के लिए मजदूरों एवं ग्रामीणों को पिलायें त्रिकटू काढ़ा दृ डॉ. भार्गव 
उमरिया 7 अप्रैल 2020-कमिश्नर रीवा एवं शहडोल संभाग डॉ. अशोक कुमार भार्गव ने निर्देश दिये हैं कि मुख्यमंत्री जी द्वारा दिये गये निर्देशानुसार कोरोना वायरस के बचाव और प्रतिरोधात्मक उपायों के लिए संभाग के समस्त ग्राम पंचायतों में दूसरे प्रदेशों से आये मजदूरों एवं कोरोना संक्रमित व प्रभावी क्षेत्रों में जिला आयुष अधिकारी की टीम ग्रामीणों को आयुर्वेद औषधि त्रिकटू काढ़ा बनाकर पिलायें। 
 कमिश्नर डॉ. भार्गव ने निर्देश दिये कि समस्त ग्राम पंचायतों में आयुर्वेद एवं होम्योपैथी औषधियों का वितरण सुनिश्चित किया जाय। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों के सरपंच एवं सचिव के माध्यम से दूसरे प्रदेशों से वापस आये मजदूरों उनके परिवारों एवं ग्राम निवासियों को आयुर्वेद औषधि के साथ ही होम्योपैथी औषधि आर्सेनिक एल्ब-30 का वितरण सुनिश्चित किया जाय। उन्होंने कहा कि प्रत्येक औषधालय में दो व्यक्तियों की टीम बनाकर ग्राम पंचायतों के सरपंच एवं सचिवों के माध्यम से औषधियों का वितरण सुनिश्चित किया जाय। औषधि वितरित करते समय मास्क, सेनेटाइजर एवं सोशल डिस्टेंसिंग के प्रावधानों का कड़ाई से पालन किया जाये।
क्र088
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लिया निर्णय
मुख्यमंत्री के तौर पर मिलने वाली सैलरी की 30 परसेंट कम सैलरी, साल भर लेंगे
उमरिया 7 अप्रैल- देश में कोरोना वायरस की संक्रमण के कारण असाधारण स्थिति बनी हुई है
 अर्थव्यवस्था की स्थिति भी अच्छी नहीं है।  इस समय आवश्यकता है संपूर्ण शक्ति और संसाधन कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने में लगाने के लिए  अपने गरीब भाई बहन , उनके भोजन एवं अन्य आवश्यक व्यवस्थाओं को करने की  इसको देखते हुए मैंने यह निर्णय लिया है कि मुख्यमंत्री के रूप में मुझे जो वेतन मिलता है उसका साल भर 30ः कम वेतन लूंगा ं।  साथ ही विधायक निधि के लिए जो व्यवस्थाएं हैं उसे भी कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने में दूं । मुख्यमंत्री ने ं सभी से अपील की है कि अपने खर्चों में कटौती कर, पैसा बचाकर कोरोना संकट से जूझने के लिए मुख्यमंत्री सहायता कोष को प्रदान करें।
क्र089
समर्थन मूल्य पर 15 अप्रैल से गेंहू खरीद की सभी तैयारियां करें - मुख्यमंत्री 
किसानों से गेंहू उपार्जन के लिए हर केन्द्र में करें व्यापक प्रबंध - मुख्यमंत्री 


उमरिया 7  अप्रैल 2020. मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से समर्थन मूल्य पर गेंहू खरीदी की तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में 15 अप्रैल से समर्थन मूल्य पर गेंहू की खरीद होगी। सभी खरीदी केन्द्र शहरी क्षेत्र से बाहर बनायें। खरीदने की अवधि घटने के कारण किसानों से गेंहू उपार्जन में कठिनाई हो सकती है। इसे दूर करने के लिए गोदाम खरीदी केन्द्रों की संख्या बंढ़ायें। खरीदे गये गेंहू के तत्काल उठाव तथा सुरक्षित भंडारण की व्यवस्था करें। इसके लिए सभी कलेक्टर ट्रांसपोर्टर निर्धारित कर लें। 
 मुख्यमंत्री ने कहा कि गेंहू खरीदी में मजदूरों की भी कठिनाई आयेगी। सामाजिक दूरी बनाये रखते हुए गेंहू की खरीद करायें। जो मजदूर बाहर से आये हैं उनका उपयोग गेंहू खरीदी में करें। इससे मजदूरों को रोजगार का अवसर मिलने के साथ मजदूरों की समस्या का समाधान होगा। इनके नियमित स्वास्थ्य की भी जांच कराते रहें। समर्थन मूल्य में गेंहू खरीदी के लिए पटवारी, रोजगार सहायक, पंचायत सचिव तथा कोटवारों का भी सहयोग लें जिससे सुगमता से गेंहू का उपार्जन हो सके। मुख्यमंत्री ने सतना जिले में उपार्जित गेंहू के भण्डारण, कैप के निर्माण तथा कैप निर्माण के लिए रेत की आपूर्ति के संबंध में निर्देश दिए। वीडियो कान्फ्रेंसिंग में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैस तथा प्रमुख सचिव खाद्य श्री शिवशेखर शुक्ला ने उपार्जन के संबंध में अधिकारियों को निर्देश दिये। कलेक्ट्रेट के एनआईसी केन्द्र से कमिश्नर डॉ. अशोक कुमार भार्गव, आईजी चंचल शेखर, कलेक्टर बसंत कुर्रे, डीआईजी अनिल सिंह कुशवाह, पुलिस अधीक्षक आबिद खान, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी अर्पित वर्मा, एडीएम इला तिवारी, संयुक्त आयुक्त पीसी शर्मा, जिला आपूर्ति अधिकारी आरएस ठाकुर तथा संबंधित अधिकारियों ने भाग लिया।
क्र090


कोरोना से जंग की असली योद्धा है पुलिस- मुख्यमंत्री श्री चौहान
मुख्यमंत्री ने फोन पर पुलिसकर्मियों से की बातचीत 


उमरिया 7 अप्रैल-   मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने  प्रदेश के भिन्न-भिन्न शहरों के पुलिसकर्मियों से टेलीफोन पर बातचीत की। इस दौरान उन्होंने पुलिसकर्मियों के हाल-चाल जाने और उनके शहरों में कोरोना के विरुद्ध चल रहे युद्ध के बारे में जानकारी ली।
इस बातचीत में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना के खिलाफ इस जंग में हमारे पुलिसकर्मी असली योद्धा के रूप में सामने आए हैं। वे खुद के प्राणों को संकट में डालकर दूसरों को बचा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के विरुद्ध युद्ध में पुलिसकर्मी रियल हीरो हैं। उन्होंने पुलिसकर्मियों के साथ बातचीत के दौरान उनसे कहा कि वे अपने काम के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान आवश्यक रूप से रखें। साथ ही मुख्यमंत्री ने पुलिसकर्मियों से आग्रह किया कि वे अपना और अपने परिवार का भी यथेष्ट ध्यान रखें। श्री चौहान ने इस बात पर जोर दिया कि पुलिसकर्मी उन्हें मुहैया कराई गई दवाईयों का जरूरी तौर पर उपयोग करें। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे जांबाज पुलिसकर्मियों द्वारा कोरोना के विरुद्ध युद्ध में जो साहस और प्रतिबद्धता प्रदर्शित की जा रही है, उसके लिए वे अभिनंदन के पात्र हैं। हर परिस्थिति में राज्य सरकार और राज्य की साढ़े सात करोड़ जनता पुलिसकर्मियों के साथ है। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी अनहोनी की दशा में पुलिसकर्मियों को 50 लाख रुपये का सुरक्षा कवच उपलब्ध कराने का फैसला भी लिया जा रहा है।
पुलिस अधिकारियों के साथ टेलिफोनिक चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री ने ऐशबाग के नगर निरीक्षक श्री अजय नायर, लेडी कांस्टेबिल श्रीमती अंजू परिहार, खजराना के सीएसपी श्री एस.के.एस तोमर, भँवरकुंआ की एसआई श्रीमती नेहा जैन, सूबेदार पुलिस लाइन श्री मनीष शुक्ला, देवास गेट ए.एस.आई. श्री दाउद खान तथा आर.आई. ऑफिस की लेडी कांस्टेबिल श्रीमती निष्ठा पाण्डेय से बातचीत की।
क्रमांक91
राज्यपाल हर माह प्रधानमंत्री कोष में देंगे 30 प्रतिशत  वेतन
उमरिया 7 अप्रैल-    राज्यपाल श्री लालजी टंडन ने कोरोना वायरस से उत्पन्न संकट से निपटने में सरकार के प्रयासों में सहयोग की अभिनव पहल की है। उन्होंने कोरोन संकट अवधि समाप्त होने तक हर माह अपने वेतन की 30 प्रतिशत राशि (लगभग एक लाख रूपये) प्रधानमंत्री कोष में देने की घोषणा की है। श्री टंडन ने राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद को पत्र भेजकर यह जानकारी दी है।
क्रमांक92


 


 


कोरोना संकट से निपटने के लिए कड़ाई से करना होगा पाबंदियों पर अमल - मुख्यमंत्री श्री चौहान 
उमरिया 7 अप्रैल-   मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरोना संकट से निपटने के लिए हम सबको पाबंदियों पर कड़ाई से अमल करना होगा। उन्होंने कहा कि समस्या को बढ़ने से रोकने के लिए हमें सभी जरूरी कदम उठाने होंगे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि बाहर से आए कुछ लोगों की वजह से भोपाल में समस्याएं बढ़ी हैं। हमें हर हाल में भोपाल को हॉटस्पॉट बनने से रोकना होगा। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान बिना अपरिहार्य कारण के बाहर निकलने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। समस्या बड़ी है तथा इसे और अधिक व्यापक रूप लेने से रोकना होगा। किसी भी व्यक्ति को उसकी नासमझी से समस्याओं में इजाफा करने की इजाजत नहीं दी जाएगी। श्री चौहान ने कहा कि व्यापक जनहित में हम सभी को काम करना होगा और थोड़ी-बहुत असुविधाएं भी बर्दाश्त करनी होगी।  
मुख्यमंत्री ने आशा कार्यकर्ताओं से भी बात की
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत आशा कार्यकर्ता, ए.एन.एम. तथा स्टाफ नर्स से टेलीफोन पर बातचीत कर कोरोना नियंत्रण के लिए जमीनी स्तर पर हो रहे काम की जानकारी ली। श्री चौहान ने आशा कार्यकर्ता बीनू सोनू से मैदानी स्थितियों के बारे में ब्यौरा लिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के जमीनी अमले का मौजूदा हालात में किया जा रहा काम तारीफ के काबिल है। 
इन्दौर की स्टाफ नर्स ज्योतिका चतुर्वेदी से चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिस प्रकार दिन-रात आप अपना काम कर रही हैं उसके लिए पूरा प्रदेश आपका आभारी है। ज्योतिका ने कहा कि हम मिलजुल कर हर हाल में कोरोना को हरायेंगे।
इसी प्रकार इन्दौर की स्टाफ नर्स दीपशिखा गंगराडे को धन्यवाद देते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना से संघर्ष आप लोगों की अदम्य क्षमता और जिजीविषा का परिचायक है। उन्होंने कहा कि आप लोगों की दिन-रात मेहनत प्रशंसनीय है। भोपाल की ए.एन.एम. पूर्णिमा पाण्डे से भी श्री चौहान ने चर्चा की। 
क्रमांक 93