ज्योतिरादित्य सिंधिया का प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल को संबोधित पत्र पढ़ा - नरेंद्र सलूजा मीडिया समन्वयक

ज्योतिरादित्य सिंधिया का प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल को संबोधित पत्र पढ़ा - नरेंद्र सलूजा मीडिया समन्वयक
पत्र की भाषा पढ़ी।पत्र में वे किसानों की समस्याओं को लेकर कृषि मंत्री से आग्रह कर रहे हैं , उन्हें सुझाव दे रहे हैं ,उनका ध्यान आकर्षित कर रहे हैं और आशा कर रहे हैं उनके इस पत्र पर वे सकारात्मक कदम उठाएंगे।


 यही ज्योतिरदित्य सिंधिया कांग्रेस की सरकार में सीधे सड़कों पर उतरने की बात करते थे , अपने दंभ में रहते थे , अधिकारियो को सीधे निर्देश देते थे , चेतावनी देते थे , वह आज भाजपा सरकार आते ही मंत्रियो के सामने घिघिया रहे है।
एक माह में ही उनकी यह स्थिति देखकर बड़ा आश्चर्य हो रहा है।
अब ना अतिथि विद्वान ध्यान आ रहे हैं , ना किसान ध्यान आ रहे हैं , ना क़र्ज़ माफ़ी याद आ रही है , ना उनकी समस्या ध्यान आ रही है , ना जनसेवा ध्यान आ रही है , ना ग़रीबो की चिंता सता रही है और ना सड़कों पर उतरने की धमकी दी जा रही है।
सब कुछ बदल चुका है ,आगे -आगे देखिए क्या होता है।


Popular posts
अतिथि शिक्षकों को अप्रैल तक का मानदेय होगा भुगतान 
Image
हर साल 1000 करोड़ का घोटाला करता है राशन माफिया
Image
रायसेन में डॉ राधाकृष्णन हायर सेकंडरी स्कूल के पास मछली और चिकन के दुकान से होती है गंदगी नगर पालिका प्रशासन को सूचना देने के बाद भी नहीं हुई कोई कार्यवाही
बीती देर रात सांसद दुर्गादास उईके ने ग्राम पिपरी पहुंचकर हादसे में मृतकों के परिजनों से की मुलाकात ।
Image
*ये दुनिया भी कितनी निराली है!* *जिसकी आँखों में नींद है …. उसके पास अच्छा बिस्तर नहीं …जिसके पास अच्छा बिस्तर है …….उसकी आँखों में नींद नहीं …* *जिसके मन में दया है ….उसके पास किसी को देने के लिए धन नहीं* …. *और जिसके पास धन है उसके मन में दया नहीं