काेरोना से जंग हार गए नीलगंगा टी.आई. यशवंत पाल* 27 मार्च को अम्बर कालोनी सील करवाई, 31 मार्च को नीलगंगा में हत्याकांड की जांच करने भी पहुँचे थे* *परिवार के सदस्यों की कोरोना जांच रिपोर्ट अब तक नही आई ।  * आशीष पेंढारकर *

काेरोना से जंग हार गए नीलगंगा टी.आई. यशवंत पाल*


27 मार्च को अम्बर कालोनी सील करवाई, 31 मार्च को नीलगंगा में हत्याकांड की जांच करने भी पहुँचे थे*
*परिवार के सदस्यों की कोरोना जांच रिपोर्ट अब तक नही आई । 


* आशीष पेंढारकर *


*उज्जैन*। नीलगंगा थाना टीआई यशवंत पाल (59) की कोरोना से इंदौर में इलाज के दौरान मौत हो गई है। 27 मार्च को उनके थाना क्षेत्र की अंबर कॉलोनी में संतोष वर्मा नामक युवक की मौत हुई थी। उसके बाद कंटेंटमेंट एरिया के आसपास की व्यवस्था टीआई खुद देख रहे थे। यहीं पर वे संक्रमित हुए और उनकी हालत बिगड़ती चली गई। लंबे इलाज के बाद इंदौर के अरविंदो अस्पताल में आज सुबह साढ़े 5 बजे उनकी मौत हो गई। मूलत: बुरहानपुर के रहने वाले पाल के परिवार में पत्नी और दाे बेटियां हैं। पत्नी मीना पाल तहसीलदार हैं। श्री पाल का परिवार इंदौर के ही विजय नगर क्षेत्र में रहता है।
6 अप्रैल 2020 को दो मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। संक्रमितों में नीलगंगा टीआई यशवंत पाल और एक दिन पहले जान गंवाने वाली भार्गव मार्ग निवासी 65 वर्षीय महिला थी। अंबर कॉलोनी के क्वारैंटाइन एरिया के थाना प्रभारी पाल के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद उनके संपर्क में रहने वाले 12 पुलिसकर्मियों को स्वास्थ्य परीक्षण के लिए माधवनगर अस्पताल भिजवाया गया था। बताया जा रहा है कि पाल की बेगमबाग धरना स्थल पर काफी दिन तक ड्यूटी रही। एक महीने से उन्हें सर्दी व बुखार की हरारत बनी हुई थी संभवत: इसी वजह से संक्रमण के शिकार हो गए। टीआई पॉल के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद उनकी पत्नी मीना पाल और दोनों बेटियां फाल्गुनी और ईशा को एक होटल में क्वॉरैंटाइन किया गया है। करीब 15 दिन से वे क्वारैंटाइन हैं, लेकिन अब तक उनकी जांच रिपोर्ट नहीं आई है।
*इस ओर भी ध्यान दे जिम्मेदार...*
लॉकडाउन के पहले तक धरना जारी था, जिसमें नीलगंगा टीआई ने ड्यूटी दी।
टीआई के साथ गाड़ी में ड्राइवर समेत चार पुलिसकर्मी साथ रहते थे।
27 मार्च को अंबर कॉलोनी में संतोष वर्मा की कोरोना से मौत के बाद अगले दिन पूरे एरिया को सील कराया।
थाने के पीछे ही मल्टी में घर है, जहां दस से बारह परिवार रहते हैं।
परिवार इंदौर में रहता, टीआई मिलने नहीं गए, लेकिन परिवार मिलने आया।
31 मार्च को नीलगंगा क्षेत्र में युवक की हत्या के बाद घटनास्थल की जांच की।


Popular posts
मध्यप्रदेश के मेघनगर (झाबुआ) में मिट्टी से प्रेशर कुकर बन रहे है
Image
अपने अस्तित्व व हक के लिए जरूर लड़े भले ही आप कितने भी कमजोर क्यो ना हो ( श्रीमती मोनिका उपाध्याय
Image
छिंदवाड़ा जिले के कोरोना वायरस जैसी गंभीर बीमारी से निपटने के लिए अभी तक़ निम्न शिक्षकों ने मुख्यमंत्री सहायता कोष में एक दिन का वेतन देने की घोषणा की है - ठाकुर राजा सिंह राजपूत
धार पुलिस कप्तान एक्शन मोड पर....* *सुबह-सुबह जामदा भूतिया में पुलिस ने दी दबिश..* *बदमाशों और पुलिस में आमने-सामने चली गोलियां.....*
बैतूल कारीगर विकास महासंघ के जिला अध्यक्ष बने विजय विश्वकर्मा
Image