कलेक्टर एवं जिलादण्डाधिकारी स्वरोचिष सोमवंषी ने कोविड 19 महामारी की रोकथाम हेतु उमरिया जिले का कम्टेनमेंट प्लान जारी किया

उमरिया - कलेक्टर एवं जिलादण्डाधिकारी स्वरोचिष सोमवंषी ने बताया कि स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मन्त्रालय भारत सरकार द्वारा कोरोना वायरस कोविड .19 महामारी की रोकथाम हेतु उमरिया जिले का कम्टेनमेट प्लान जारी किया जा हा हैउमरिया नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्र में पाये जाने वाले एसएआरआई अथवा आईएल आई के संभावित अथवा कन्फर्म मरीजो के लिए एसओपी प्लोचार्ट 1 एवं 2 के अनुसार किया जाना सुनिश्चित किया गया है। जिन घरों में संभावित अथवा कन्फर्म मरीज पाए जाएंगे, उन्हें ईपीसेंटर घोषित करते हुए पूरे नगर, गांव, टोला को कन्टेनमेंट एरिया घोषित किया जायेगा। इस क्षेत्र के समस्त घरों का स्व निर्मारित प्रपत्र क्रमांक 1 में अनिवार्यतः किया जाएगा। कोरोना महामारी की रोकथाम एंव समुचित प्रबंधन हेतु कार्यालय मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी जिला उमराि द्वारा रेपिड रेस्पोंस टीम गा गठन किया गया है। उन्होनेह बताया कि कन्टेनमेंट एरिया कन्टेनमेंट हेतु निर्देष जारी किए गए है जिसमें एरिया के अंतर्गत आवागमन पूर्ण रूप से प्रतिबंधित रहेगा। कन्टेनमेंट एरिया के समस्त निवासियों का होम क्वारेन्टाइन करना सुनिश्चित किया जावेगा कन्टेनमेंट एरिया में संदर्भित कार्यालय के आदेशानुसार कर्पू लगाया जावेगा। . मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी जिला उमरिया द्वारा गठित की गई रैपिड रिस्पोंस टीम कन्टेनमेंट एरिया मे एसओपी का अनुपालन सुनिश्चित करेंगी. उक्त क्षेत्र में प्रवेश एवं निकास मार्ग सीमित कर दिए जायेगे. एवं इनकी निगरानी हेतु सभी निकास मार्ग पर स्वास्थ्य कर्मचारियों द्वारा सतत निगरानी एवं स्क्रीनिंग की जाएगी। जिले में कार्यालय मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के आदेशानुसार 01 मोबाइल मेडिकल यूनिट्स (एमएमयू) एवं 15 मेडिकल यूनिट समुदाय स्तर पर (पीएचएमयू) का गठन किया गया है। जो कि कंटेनमेंट एरिया आने वाले समस्त लोगों की लाइन लिरिटंग और कान्टेक्ट ट्रेसिंग संलग्न 2 के अनुसार करना सुनिश्चित करेंगे। टीम का सुपरवीजन का दायित्व संबंधित खण्ड चिकित्सा अधिकारी को च्च् के अनुसार रहेगा। संबंधित खण्ड चिकित्सा अधिकारी, रिपोर्ट की जानकारी सभी संदर्भित अधिकारीध्कार्यालयों को दैनिक रूप से दिया जाना सुनिश्चित करेंगे।


समस्त एमएमयू कोरोना वायरस महामारी के संभावित मरीजों की मौनिटरिंग पतिदिन करेंगे., एवं इसके संक्रमण के संभावित लक्षण जैसे कि बुखार, खांसी, गले में दर्द एवं एवांस लेने में तकलीफ आदि लक्षण आने पर इसकी सूचना रैपिड रिस्पोंस टीम को दिया जाना सुनिश्चित करेंगे। . समस्त कोविड -19 संक्रमण के पॉजिटिव केस के परिजन, निकट संपर्क में आने वाले व्यक्तियों को हाई रिस्क सस्पेक्ट, मानकर एसओपी के अनुसार उनकी लाइन लिस्टिंग एवं स्क्रीनिंग की व्यवस्था संबंधित खण्ड चिकित्सा अधिकारी द्वारा अविलम्ब की जावेगी. समस्त कोविड -19 संक्रमण के पॉजिटिव केस के परिजनों की जांच के उपरांत निगेटिव पाए जाने की दशा में उन्हें क्वारेटाईन किया जाना अति आवश्यक है जिससे संक्रमण को समुदाय में फैलने से रोका जा सके, . आवश्यकता पड़ने पर सभी एमएमयू टीम, इस हेतु गठित कॉल सेंटर टेली मेडिसिन सेंटर से समन्वय स्थापित कर चिकित्सकीय परामर्श प्राप्त कर सकेंगे।. जिन व्यक्तियों को होग ववेरेंटाइन किया जाएगा. उनको कॉल सेंटरटेली मेडिसिन के माध्यम से पतिदिन फालोअप किया जावेगा। जब तक कि संभावित केस का रिजल्ट निगेटिव न अ जाए। संक्रमण फैलने से रोकने हेतु त्वरित कार्यवाहीके अंतर्गत संभावित मरीज की कान्टेक्ट ट्रेसिंग करते हुए समस्त संबंधितों सेल्फ डिविलरेषन फार्म में उल्लेखित, से अनिवार्यत सपंर्क बनाकर क्वारेटाईन करवाने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी।मरीज के संपर्क में आने वाले सभी व्यक्तियो का 14 दिनों तक प्रतिदिन काल सेंटर काल सेंटर या टेली मेडिसीन के माध्यम से ट्रेसिंग , आवष्यक रूप से होम क्वारेटाईन किया जाना सुनिश्चित करे। नगर पालिका उमरिया द्वारा कन्टनमेंट का सेनेटाईजेषन किया जाना सुनिश्चित किया जाएगा। संभावित कसे को खण्ड द्वारा कन्टनमेंट का सेनेटाईजेषन किया जाना सुनिश्चित किया जाएगा। संभावित कसे को खण्ड चिकित्सा अधिकारी, रेपिड रिस्पोंस टीम द्वारा परीक्षण किए जाने तक चिन्हित कमरे में आइसोलेषन वार्ड कोविड 19 जिला चिकित्सालय में आईसोलेषन किया जाएगा। समस्त परिवार एवं मरीज को फेस मास्क उपलब्ध कराते हुए हैण्ड हाईजीन एवं पर्सनल हाई जीन के प्रोटोकाल का पालन करना सुनष्चिति करे


Popular posts
बैतूल पाढर चौकी के ग्राम उमरवानी में जुआ रेड पर जबरदस्त कार्यवाही की गई
Image
जांच के इंतजार में आर ई एस तालाब सलैया
दैनिक रोजगार के पल परिवार की तरफ से समस्त भारतवासियों को दीपावली पर्व की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं
Image
सरकारी माफिया / म. प्र. भोज मुक्त विश्वविद्यालय बना आर्थिक गबन और भ्रष्टाचार का अड्डा* **राजभवन सचिवालय के अधिकारियों की कार्य प्रणाली संदेह के घेरे में** *कांग्रेसी मूल पृष्ठ भूमि के कुलपति डॉ जयंत सोनवलकर अब राज्यपाल आर एस एस का संरक्षण बताकर कर रहे है खुलकर भ्रष्टाचार*
रायसेन में डॉ राधाकृष्णन हायर सेकंडरी स्कूल के पास मछली और चिकन के दुकान से होती है गंदगी नगर पालिका प्रशासन को सूचना देने के बाद भी नहीं हुई कोई कार्यवाही