खपांडरी,उमरी के जंगलों में पुलिस और आबकारी की टीम ने 4:50 लाख रुपए का महुआ लहान किया नष्ट

खपांडरी,उमरी के जंगलों में पुलिस और आबकारी की टीम ने 4:50 लाख रुपए का महुआ लहान किया नष्ट


(संतोष सोनी)


मुलताईं।कोरोना काल में जहां ठेके की शराब दुकाने बंद है।वहीँ कच्ची शराब बेचने एवं बनाने वाले इस बात का फायदा उठा रहे हैं। कच्ची शराब बनाने में बेचने वालों द्वारा जंगलों में जमकर कच्ची शराब बना बनाई जा रही। सोमवार को पुलिस एवं आबकारी विभाग की टीम द्वारा ग्राम खड़की उमरी ,पांडरी के जंगलों में शराब बनाने के लिए रखा गया 45 ड्रम महुआ लहान नष्ट करने में सफलता प्राप्त की है। एसडीओपी नम्रता सोंधिया ने बताया कि प्रभात पट्टन ब्लाक के ग्राम खड़की उमरी पांडरी में महाराष्ट्र की सीमा पर स्थित जंगलों में अवैध रूप से कच्ची शराब बड़ी मात्रा में बनाई जा रही है। सूचना मिलने पर उनके द्वारा पुलिस अधीक्षक को जानकारी दी गई। जिसके बाद उनके द्वारा पुलिस एवं आबकारी विभाग की संयुक्त टीम को कार्रवाई करने के निर्देश दिए जाने पर सोमवार की सुबह एसडीओपी नम्रता सोंधिया, सहायक जिला आबकारी अधिकारी ए के माहोर साथ आबकारी एवं पुलिस विभाग की टीम के साथ खड़की,उमरी, पांडरी के जंगलों ने पहूचे तो देखा कि ड्रमों के अंदर बड़ी मात्रा में कच्ची शराब बनाने के लिए महुआ लहान सड़ाया जा रहा था। मौके पर45 ड्रमों में 9हजार क्विंटल महुआ लहान मिलने पर नष्ट किया गया। नष्ट किये गए महुआ लहान की कीमत 4,50लाख रुपए बताई जा रही है