परमार वंश प्रकटोत्सव दिवस की बधाई - श्रीमती राखी परमार

परमार वंश प्रकटोत्सव दिवस की बधाई
_----------------------------
        आज के दिन वैशाख शुक्ल पंचमी को अनल कुण्ड आबू पर्वत से परमार का अवतरण हुआ था। परमार वंश में कई महाप्रतापी सम्राट हुए। इसलिए कहा गया कि पृथ्वी तणा परमार पृथ्वी परमारो तणी। परमार वंश के राजा सत्य न्याय व भक्ति में सर्वोच्च थे। सम्राट युधिष्ठिर के पश्चात सम्राट विक्रमादित्य भारत वर्ष के महान सम्राट हुए। जिनसे देवता भी न्याय कराते थे व मदद लेते थे। और राजा भोज जैसे विद्वान राजा ने भी विश्व स्तरीय शास्त्रों की रचना कर परमार वंश का नाम इतिहास में स्वर्णाक्षरों लिखा।  आज परमार वंश के सभी महापुरुषों  गंधर्वसेन भृतहरि विक्रमादित्य शालिवाहन राजा राम परमार   उपेन्द्र राज सियक मुंज  राजा भोज उदयादित्य जगदेव धरणीवराह धारावर्ष राणा सोढा जी सांखला जी  हडबु जी सांखला जाम्भोजी पंवार  कुंवर चेन सिंह जी परमार बाबू कुंवर सिंह जी परमार  आदि को प्रणाम व शत् शत् नमन कि आपने परमार वंश को गौरवान्वित किया।
🙏श्रीमती राखी परमार 🙏


Popular posts
अगर आप दुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा दुखी रहेंगे और सुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा सुखी रहेंगे
Image
ग्रामीण आजीविका मिशन मे भ्रष्टाचार की फिर खुली पोल, प्रशिक्षण के नाम पर हुआ घोटाला, एनसीएल सीएसआर मद से मिले 12 लाख डकारे
Image
आंसू" जता देते है, "दर्द" कैसा है?* *"बेरूखी" बता देती है, "हमदर्द" कैसा है?*
ग्राम बादलपुर में धान खरीदी केंद्र खुलवाने के लिये बैतूल हरदा सांसद महोदय श्री दुर्गादास उईके जी से चर्चा करते हुए दैनिक रोजगार के पल के प्रधान संपादक दिनेश साहू
Image
लॉक डाउन और धारा 144 का पालन नहीं करने पर कार्यवाही की मांग :- आम आदमी पार्टी