प्रदेष के अन्य जिलों मं लाक डाउन के कारण फंसे 806 श्रमिकों को उनके घरों तक पहुचाया गया


उमरिया - प्रदेष के मुख्यमंत्री षिवराज सिंह चौहान द्वारा कोरोना संक्रमण के कारण लाक डाउन की वजह से अन्य जिलों में फंसे श्रमिकों को उनके घरों तक पहुचाने के निर्देष दिए गए है। कलेक्टर स्वरोचिष सोमवंषी ने बताया है कि उमरिया जिले में 29 अप्रैल को प्रातः 10 बजे तक प्रदेष के अन्य जिलों से 806 श्रमिकों को बसां एवं अन्य वाहनों के माध्यमों से लाया गया है। इन श्रमिकों को डाईट उमरिया में बनाये गये स्क्रीनिंग एवं रूकने ए ठहरने एवं भोजन की व्यवस्था की जा रही हैस्क्रीनिंग में सामान्य पाये जाने पर संबंधितों को विषेष वाहनों के माध्यम से उनके घर तक छोड़ने की व्यवस्था की जा रही है। सभी श्रमिकों के विवरण का रिकार्ड संधारण भी किया जाता हैबीना से आये शहपुरा डिण्डौरी निवासी श्रमिक मोनू वनवासी ने बताया कि वह तीन माह पहले गेहूंए चना ए मसूर आदि की कटाई करने हेतु परिवार के 11 सदस्यो के साथ बीना गये थे । कोरोना संक्रमण के कारण लाक डाउन हो जाने से पूरा परिवार बीना में फंस गया थाहम सब बहुत चिंतित थे कि कैसे अपने घर पहुच पायेगे । प्रदेष के मुख्यमंत्री षिवराज सिंह चौहान के निर्णय के कारण सरकार द्वारा की गई बस की व्यवस्था से हम सब लोग रात्रि में उमरिया आये है। यहां हम लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया है। साथ ही भोजन एवं रहने की


Popular posts
भारत- सीमा विवादः भारत की अंतरराष्ट्रीय सीमा, नियंत्रण रेखा और वास्तविक नियंत्रण रेखा - ये तीनों आख़िर हैं क्या?
Image
सरकारी माफिया / म. प्र. भोज मुक्त विश्वविद्यालय बना आर्थिक गबन और भ्रष्टाचार का अड्डा* **राजभवन सचिवालय के अधिकारियों की कार्य प्रणाली संदेह के घेरे में** *कांग्रेसी मूल पृष्ठ भूमि के कुलपति डॉ जयंत सोनवलकर अब राज्यपाल आर एस एस का संरक्षण बताकर कर रहे है खुलकर भ्रष्टाचार*
आंसू" जता देते है, "दर्द" कैसा है?* *"बेरूखी" बता देती है, "हमदर्द" कैसा है?*
संभागायुक्त ने किया शहर के नगर निगम पुस्तकालय और वाचनालयों का निरीक्षण
Image
बैतूल पाढर चौकी के ग्राम उमरवानी में जुआ रेड पर जबरदस्त कार्यवाही की गई
Image