सौदा पत्रक के माध्यम से कृषि उपज विक्रय हेतु क्रय केन्द्र निर्धारित

हरदा / सहायक संचालक एवं सचिव कृषि उपज मंडी समिति हरदा ने कृषकों को सूचित किया है कि मध्यप्रदेश शासन मंडी बोर्ड भोपाल कके निर्देशानुसार मंडी प्रशासन द्वारा 8 क्रय केन्द्र निर्धारित किये गये है। उन्होने बताया कि कृषि उपज विक्रय हेतु कमलकिशोर फ्लोर मिल्स प्रा. लि. जिला पुलिस ला के सामने इन्दौर रोड़ हरदा (मोबाईल नं. 9826481860), खनूजा ट्रेडर्स इण्डस्ट्रीयल एरिया बांगड दाल मिल के सामने हरदा (मोबाईल नं. 94504105 देववृत्त ट्रेडर्स 127 कृषि औद्योगिक एकल परिसर क्षेत्र हरदा (मोबाईल नं. 9425044285), हजारीलाल रामनिवास अग्रवाल प्लाट नं. 42-43 चयन वेयहाउस इण्डस्ट्रीयल एरिया हरदा (मोबाईल नं. 9425042265), सौभाग्य लक्ष्मी फुड्स प्रा. लि. हरदा सौभाग्य लक्ष्मी परिसर गीता भवन के पास छिपा रोड़ हरदा (मोबाईल नं. 9755633555), शहद इण्डस्ट्रीज औद्योगिक क्षेत्र 106-107 हरदा (मोबाईल नं. 9425044285), विजय फ्लोर मिल हरदा प्ला नं. 75-76 इण्डस्ट्रीज एरिया हरदा (मोबाईल नं. 9425042265) तथा मे. अजय ट्रेडर्स हरदा इण्डस्ट्रीज एरिया 116-120 कृषि औद्योगिक क्षेत्र हरदा(मोबाईल नं. 9826091015) को क्रय केन्द्र निर्धारित किया गया है___ इन केन्द्रों पर कृषक बंधु सौदा पत्रक के माध्यम से अपनी कृषि उपज विक्रय कर सकते है। किसान भाई उक्त क्रय केन्द्रों पर अपनी उपज सौदा पत्रक से विक्रय कर सकते है। मंडी समिति के अनुज्ञप्तिधारी व्यापारी सौदा पत्रक के माध्यम से आपके गांव एवं खलिहान से कृषि उपज कर स्वयं के वाहन से परिवहन कर अपने प्रतिष्ठान लायेंगे। सचिव कृषि उपज मंडी समिति ने कृषकों को सूचित किया है कि आप अपनी कृषि उपज किसी भी स्थिति में मंडी प्रांगण में खाली करने अथवा सौदा करने नहीं लावेंगे और  न ही आपको मंडी प्रांगण में प्रवेश दिया जावेगा।


Popular posts
ग्रामीण आजीविका मिशन मे भ्रष्टाचार की फिर खुली पोल, प्रशिक्षण के नाम पर हुआ घोटाला, एनसीएल सीएसआर मद से मिले 12 लाख डकारे
Image
बैतूल पाढर चौकी के ग्राम उमरवानी में जुआ रेड पर जबरदस्त कार्यवाही की गई
Image
मोहम्मद शमी ने कहा, निजी और प्रोफेशनल मसलों की वजह से 'तीन बार आत्महत्या करने के बारे में सोचा'
Image
दैनिक रोजगार के पल परिवार की तरफ से समस्त भारतवासियों को दीपावली पर्व की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं
Image
मामला लगभग 45 लाख की ऋण राशि का है प्राथमिक कृषि सेवा सहकारी समिति मर्यादित चोपना के लापरवाही का नतीजा भुगत रहे हैं गरीब किसान