उपार्जन केन्द्रों में ऑन लाइन कृषक तौल पर्ची जारी करने के निर्देश संचालक श्री अविनाश लवानिया

विदिशा। ___ उपार्जन केन्द्रों में उपार्जन के अंतिम दिवस मंगलवार 26 मई को समर्थन मूल्य पर गेंहू उपार्जन हेतु जारी नीति की कंडिकाओ के अनुसार उपार्जन केन्द्र पर कृषक की उपज तौल करने हेतु कृषको को ऑन लाइन कृषक तौल पर्ची जारी करने के निर्देश खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण के संचालक श्री अविनाश लवानिया द्वारा जारी किये गए है। ऑन लाइन कृषक तौल पर्ची की वैधता 48 घंटे निर्धारित की गई है। कृषक तौल पर्ची के क्रम में एफएक्यू गेंहू होने पर तौल करने का प्रावधान किया गया है। खाद्य संचालक के द्वारा अंतिम दिवस 26 मई को जो कार्यवाही सुनिश्चित की जानी है के संबंध में स्पष्ट दिशा निर्देश जारी किए गए है। तदानुसार ई उपार्जन पोर्टल पर पंजीकृत किसान उपार्जन केन्द्र पर गेंहू को विक्रय करने हेतु आने पर (उपज को केन्द्र पर लाने पर) ऑन लाइन ही कृषक तौल पर्ची जारी की जाए जिसमें उपज की अनुमानित मात्रा भी प्रविष्ट की जाए। प्रत्येक तौल पर्ची पर उपार्जन केन्द्र पर नियुक्त नोडल अधिकारी के हस्ताक्षर कराए जाए। किसानो को हस्तलिखित टोकन कदापि जारी नहीं किए जाए। कृषक तौल पर्ची जारी होने के उपरांत गुणवत्ता परीक्षण में गेंह एफएक्यू की पाए जाने एवं पाई गई स्थिति को गुणवत्ता परीक्षण मोबाइल एप में दर्ज करने पर उपज की तौल कराई जाये। स्कंध नॉन-एफएक्यू पाए जाने पर रिजेक्ट के उपरांत पुनः इस स्कंध की तौल नहीं कराई जाये। कृषक की एफएक्यू उपज की तौल होने के उपरांत कम्प्यूटराईज प्रिन्टेड रसीद केन्द्र प्रभारी द्वारा ऑन लाइन जारी कर हस्ताक्षर किए जाए, जिसकी एक प्रति संस्था पर रखी जाये तथा दूसरी प्रति कृषक को दी जाए। सुनिश्चित किया जाये कि जिन कृषको की एफएक्यू उपज की तौल की जा चुकी है, उनको अनिवार्यतः कम्प्यूटराईज प्रिन्टेड रसीद प्रदाय हो जाए। हस्तलिखित रसीद मान्य नहीं होगी। उपार्जन केन्द्रों पर नोडल अधिकारी की इयूटी लगाई जाये एवं उनके द्वारा डे-क्लोजर रिपोर्ट में उपार्जन केन्द्र पर पाई स्थिति दर्ज की जाये। जिसकी एक प्रति नोडल अधिकारी द्वारा हस्ताक्षर कर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को प्रेषित की जाये। अनुविभागीय अधिकारी द्वारा उनके क्षेत्र के सभी उपार्जन केन्द्रों की रिपोर्ट सायं छह बजे तक प्रेषित की जाए तथा कलेक्टर द्वारा जिले की स्थिति से संचालक, खाद्य को अवगत कराया जाए। __ यथासंभव किसानो की तौल दिनांक 26 मई को करा ली जाए, जिन किसानो को दिनांक 26 मई तक वैध ऑन लाइन कृषक तौल पर्ची जारी की गई है और उनकी उपज की तुलाई नही हो पाई हो, तो ऐसे ऑन लाइन कृषक तौल पर्ची प्राप्त किसानो से 27 मई की शाम छह बजे तक तौल कराई जा सकेंगी। जिन किसानो से पूर्व में उपज की तौल की गई है, उनकी ऑन लाइन प्रिन्टेड रसीद अनिवार्यतः जारी कर किसानो को उपलब्ध कराई जाये। जिले के जिन उपार्जन केन्द्रो 26 मई तक पंजीकृत किसानो से उपार्जन, कृषक तौल पर्ची जारी किया जाना संभव नही हो सका एवं उनमें आगामी दिवसों में उपार्जन किया जाना है, ऐसे उपार्जन केन्द्रो केन्द्रों के नाम, कोड नम्बर, शेष किसान संख्या तथा उपार्जन की जानकारी प्रेषित करने तथा वास्तविक पंजीकृत कृषकों से ही उनकी पात्रतानुसार उपज की खरीदी की जाए। अन्य सीमावर्ती राज्यों से उपार्जन केन्द्रों पर गेंहू विक्रय हेतु न आए, हेतु विशेष चौकसी बरती जाए।


Popular posts
भगवान पार ब्रह्म परमेश्वर,"राम" को छोड़ कर या राम नाम को छोड़ कर किसी अन्य की शरण जाता हैं, वो मानो कि, जड़ को नहीं बल्कि उसकी शाखाओं को,पतो को सींचता हैं, । 
Image
राज्यपाल श्री लालजी टंडन ने प्रदेशवासियों को ईद उल फितर की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी
Image
एक ऐसी महान सख्सियत की जयंती हैं जिन्हें हम शिक्षा के अग्रदूत नाम से जानते हैं ।वो न केवल शिक्षा शास्त्री, महान समाज सुधारक, स्त्री शिक्षा के प्रणेता होने के साथ साथ एक मानवतावादी बहुजन विचारक थे। - भगवान जावरे
Image
श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर साहू समाज" घोड़ा निक्कास भोपाल  में "मां कर्मा देवी जयंती" के शुभ अवसर पर भगवान का फूलों से भव्य श्रृंगार किया गया।
Image
कान्हावाड़ी में बनेगी अनूठी नक्षत्र वाटिका, पूर्वजों की याद में लगायेंगे पौधे* *सांसद डीडी उइके एवं सामाजिक कार्यकर्ता मोहन नागर ने कान्हावाड़ी पहुँचकर किया स्थल निरीक्षण
Image