औरंगाबाद रेल दुर्घटना में बचे श्रमिक वीरेंद्र सिंह ने प्रदेश सरकार का जताया आभार

उमरिया -


औरंगाबाद रेल दुर्घटना में उमरिया जिले के पांच श्रमिकों की मृत्यु हो गई थी ए उनमे से एक मात्र श्रमिक वीरेंद्र सिंह जीवित बचा था। प्रदेश शासन के आदिम जाति कल्याण मंत्री तथा जिला प्रभारी मंत्री सुश्री मीना सिंह जब शोक संवेदना व्यक्त करनें उनके गृह ग्राम पहुंची तथा मृतको परिवार जनों से मिलकर शोक सवंदना व्यक्त कर रही थी तो दुर्घटना में बचे एक मात्र श्रमिक वीरेंद्र सिंह पिता चैन सिंह निवासी जमडी ने दुर्घटना के बाद प्रदेश सरकार तथा प्रदेश शासन की आदिम जाति कल्याण मंत्री मीना सिंह से मिलकर तत्कालिक मदद हेतु धन्यवाद ज्ञापित किया। 


जिले की प्रभारी मंत्री ने दुख की इस घड़ी में संपर्क कर सभी आवश्यक व्यवस्था करने की बात मोबाइल के मध्यम से कही। इतना ही नही वे स्वयं मप्र के अधिकारियों का दल लेकर घटना स्थल पर पहची तथा स्वास्थ्य व्यवस्था हेत् मतको के पार्थिव शरीर को घर तक पहुचाने की व्यवस्था सुनिश्चित कराने के बाद ही वापस लौटी। विपत्ति की इस घड़ी में मंत्री सुश्री मीना सिंह द्वारा किए गए सहयोग एवं संबल को मैं जीवन भर नही भूल पाउंगा। उन्होने पूरे घटना की जानकारी ग्रामीणों को देते हुए प्रदेश सरकार द्वारा किए गए सहयोग के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया। ___इस अवसर पर प्रदेश शासन की आदिम जाति कल्याण मंत्री सुश्री मीना सिंह ने श्रमिक वीरेंद्र सिंह सिंह से कुशल क्षेम की जानकारी ली तथा कहा कि उन्हें भी प्रदेश सरकार की ओर से योजनाओ का लाभ दिलाया जाएगा।


Popular posts
कान्हावाड़ी में बनेगी अनूठी नक्षत्र वाटिका, पूर्वजों की याद में लगायेंगे पौधे* *सांसद डीडी उइके एवं सामाजिक कार्यकर्ता मोहन नागर ने कान्हावाड़ी पहुँचकर किया स्थल निरीक्षण
Image
जनपद पंचायत के भ्रमण के दौरान ग्राम पंचायत डोडका में कलेक्टर ने स्व सहायता समूहों द्वारा निर्मित मास्क तथा साबुन का स्थानीय जनों को किया वितरण
Image
शराब के बहुत नुकसान है साथियों सभी दूर रहे तो इसमें समाज और देश की भलाई है - अशोक साहू
Image
मध्यप्रदेश के मेघनगर (झाबुआ) में मिट्टी से प्रेशर कुकर बन रहे है
Image
झारखंड पलामू जिला के मजदूर ठेकेदार से 2 साल से परेशान थे इस्थानीय विधायक से की शिकायत
Image