बैतूल -: 11 वर्ष के मासूम तनिष के लिए किया रक्तदान

बैतूल -: 


 राष्ट्रीय सेवा योजना के वालिंटियर्स ने किया रक्तदान लॉक डाउन में स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर जहां प्रशासन सजग है, वहीं रक्तदाता भी इस समय मुस्तैदी से अपना फर्ज निभा रहे हैं। जरूरत पडऩे पर रक्तदाता रक्तदान करने जिला अस्पताल तक पहुंच रहे हैं। शनिवार को जिला अस्पताल में एक 11 वर्षीय बालक जो सिकलसेल एनिमिया से पीडि़त है उसे ओ-पाजेटिव ब्लड की आवश्यकता थी, लेकिन जिला अस्पताल के ब्लड बैंक में ओ-पॉजीटिव ब्लड की उपलब्धता नहीं थी। ब्लड बैंक प्रभारी डॉ. अंकिता सीते ने बताया कि जिला अस्पताल के बच्चा वार्ड में भर्ती तनिष पिता संतोष बर्डे ‘११ वर्ष’ निवासी सुभाष वार्ड, हमलापुर बैतूल को ब्लड  की आवश्यकता थी। जिला अस्पताल पहुंचे जेएच कॉलेज बैतूल की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के वरिष्ठ स्वयं सेवक ललित तायवाड़े ने दुलर्भ ओ-पाजीटिव ब्लड डोनेड किया। वरिष्ठ स्वयं सेवक ललित तायवाड़े ने बताया कि बच्चे को हर माह ब्लड की आवश्यकता पड़ती है, जिसे जरूरत के समय रक्तदान किया गया।  जेएच कॉलेज प्राचार्य डॉ. विजेता चौबे ने अपील की है कि 14 जून को विश्व रक्तदान दिवस पर कॉलेज के छात्र-छात्राएं जरूरतमंद लोगों को रक्तदान अवश्य करें। उन्होंने कहा रक्तदान किसी के जीवन में आशा की नई रोशनी ला सकता है। 14 जून को विश्व रक्तदान दिवस मनाया जाता है। इसी कड़ी में बैतूल में14 जून से 14 जुलाई तक विश्व रक्तदान दिवस माह का आयोजन के साथ  जिला अस्पताल में रक्तदान शिविरों का आयोजन किया जाएगा।


Popular posts
कुदरत का कहर भी जरूरी था साहब, वरना हर कोई खुद को खुदा समझ रहा था*  - दिनेश साहू
Image
एक रोटी कम खा लेंगे पापा बाहर मत जाओ तुम हो तो हम है
Image
बैतूल पाढर चौकी के ग्राम उमरवानी में जुआ रेड पर जबरदस्त कार्यवाही की गई
Image
मध्यप्रदेश के मेघनगर (झाबुआ) में मिट्टी से प्रेशर कुकर बन रहे है
Image
सरकारी माफिया / म. प्र. भोज मुक्त विश्वविद्यालय बना आर्थिक गबन और भ्रष्टाचार का अड्डा* **राजभवन सचिवालय के अधिकारियों की कार्य प्रणाली संदेह के घेरे में** *कांग्रेसी मूल पृष्ठ भूमि के कुलपति डॉ जयंत सोनवलकर अब राज्यपाल आर एस एस का संरक्षण बताकर कर रहे है खुलकर भ्रष्टाचार*