लॉकडाउन का झटका, जनता की जेब से ऐसे भरा जाएगा मंडी टैक्स बढ़ाने की तैयारी

 भोपाल। मप्र सरकार को कोरोना लॉकडाउन के चलते लगभग 12 हजार करोड़ का राजस्व नुकसान हुआ है। इसकी भरपाई के लिए शिवराज सरकार अब आम लोगों की जेब से खजाना भरने की तैयारी कर रही है, जिसके तहत सरकार ने पेट्रोल पर 2 रुपए और डीजल पर 3 रुपए प्रति लीटर अतिरिक्त कर लगाने के साथ ही शराब पर टैक्स को लगभग दोगुना करने की तैयारी की है। इसके अलावा मंडी टैक्स, विद्युत उपकर, सिंचाई उपकर भी बढ़ाया जा सकता है। लॉकडाउन के चलते 70 दिनों में सरकार को टैक्स के रूप में मिलने वाली करीब 12 हजार करोड़ की राशि का नुकसान हुआ है। शिवराज सरकार आने के बाद पिछले 2 माह में सरकार को तीन बार में 2 हजार करोड़ का कर्ज लेना पड़ा है। केंद्र सरकार से 13 हजार 776 करोड़ की राशि मिल गई है। इनमें 9 हजार 147 करोड़ केंद्रीय करों में हिस्से के रूप में मिली है। अब सरकार घाटे की पूर्ति के लिए टैक्स बढ़ाने के विभिन्न प्रयासों में जुटी है। 12 हजार करोड़ का नुकसान प्रतिवर्ष अलग-अलग टैक्स के रूप में लगभग 65 हजार करोड़ की आय होती थी, लेकिन कोरोना के कारण पिछले 2 महीने में 12 हजार करोड़ की आय कम हुई है। इनमें जीएसटी, पेट्रोल‑डीजल, आबकारी, खनिज, परिवहन, सिंचाई, पंजीयन और ऊर्जा आदि से होने वाली आय शामिल है। आय बढ़ाने के उपाय पेट्रोल पर अतिरिक्त चार्ज साढ़े 5 रुपए करने का प्रस्ताव है। इसी प्रकार डीजल पर 18 प्रतिशत वैट, एक प्रतिशत सेस और 2 रुपए अतिरिक्त चार्ज लिया जाता है। इसे बढ़ाकर 5 रुपए करने का प्रस्ताव है। प्रदेश में मंडी शुल्क 1.5 प्रतिशत है, जिसे 2 प्रतिशत करने का प्रस्ताव है। केवल मंडी टैक्स से 500 करोड़ की आय संभावित है।


Popular posts
अगर आप दुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा दुखी रहेंगे और सुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा सुखी रहेंगे
Image
माँ कर्मा देवी जयंती की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं- दिनेश साहू प्रवक्ता मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी
Image
मध्यप्रदेश के मेघनगर (झाबुआ) में मिट्टी से प्रेशर कुकर बन रहे है
Image
भगवान पार ब्रह्म परमेश्वर,"राम" को छोड़ कर या राम नाम को छोड़ कर किसी अन्य की शरण जाता हैं, वो मानो कि, जड़ को नहीं बल्कि उसकी शाखाओं को,पतो को सींचता हैं, । 
Image
माता शबरी का चरित्र अनुकरणीय- मंत्री श्री जयवर्धन सिंह गौरव की बात - मंत्री श्री मरकाम, ब्यावरा में माता शबरी जन्म उत्सव में सम्मिलित हुए मंत्री द्वय