प्रभारी मंत्री ने घर पहुंचकर औरंगाबाद रेल दुर्घटना मं जिले के मृत पांच परिवार जनों से मिलकर संवेदना व्यक्त की

उमरिया -


प्रदेश शासन की आदिम जाति कल्याण मंत्री तथा जिला प्रभारी मंत्री सुश्री मीना सिंह ने औरंगाबाद रेल दुर्घटना में जिले के मृत पांच श्रमिकों के घर पहंचकर परिवार जनों से मिलकर शोक संवेदना व्यक्त की। परिवार जनो की व्यथा सुनकर वे स्वयं भावुक हो उठी। उन्होने मृतका के माता पिता ए पत्नी तथा उनकी संतानों से मिलकर सांत्वना देते हुए कहा कि दुख की इस घडी में वे स्वयं को अकेला नही समझें। प्रदेश सरकार तथा जिला प्रशासन उनके साथ है ए उन्हें हर संभव मदद उपलब्ध कराई जाएगी। इन परिवारों ने प्रदेश शासन की मंत्री सुश्री मीना सिंह को बुरे वक्त में अपने बीच पाकर राहत महसूस की। प्रदेश शासन के आदिम जाति कल्याण मंत्री मीना सिंह औरंगाबाद रेल दुर्घटना में पाली तहसील के ग्राम जमडी के मृतक श्रमिक प्रदीप सिंह के निवास में पहुंचकर उनके पिता लोधी सिंह ए माता सुनीता सिंह भाई संदीप सिंह तथा बेटे कुलदीप सिंह से मिलकर ढाढ़स बंधाया। इसी तरह ग्राम ममान निवासी मृतक भगेंद्र सिंह की पत्नी पुष्पा सिंह ए बेटी सोनल पिता चैन सिंह तथा माता जामवती बाई से मिलकर शोक संवेदना व्यक्त की।


इसी ग्राम के मृतक मुनीम सिंह की पत्नी कृष्णावती ए बेटा प्रियांशु तथा बेटी से तथा मृतक नेमशाह सिह की पत्नी देववती से मिलकर शोक संवेदना व्यक्त की। उन्होने कहा कि इस दुर्घटना से उन्हें गहरा आघात पहुंचा है । प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिह चौहान के निर्देश पर मैं स्वयं औरंगाबाद गई थी और मृतकों के पार्थिव शरीर को उनके घरों तक पहुचाने की व्यवस्था कराई थी। प्रदेश सरकार द्वारा इन परिवारों को 16. 16 लाख रूपये की आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई गई है जिसमें से 11 लाख रूपये उनके खातों में जमा हो चुके है ए पंाच लाख रू0 शीघ्र ही उनके खातों में जमा करा दिए जायेगे। आपने संबंधित परिवारों को बैंक धोखाधडी से बचने तथा बैंक से संबंधित कागजात किसी अन्य को नही सौपने की समझाइश दी। इस अवसर पर जनप्रतिनिधि दिलीप पाण्डेयए अनुविभागीय अधिकारी पुलिस अरविंद तिवारी ए सहायक आयुक्त आदिवासी विकास आनंद राय सिन्हाए तहसीलदार एमपी विराटए नायब तहसीलदार राजेश पारस उपस्थित रहे।


Popular posts
मध्यप्रदेश के मेघनगर (झाबुआ) में मिट्टी से प्रेशर कुकर बन रहे है
Image
अपने अस्तित्व व हक के लिए जरूर लड़े भले ही आप कितने भी कमजोर क्यो ना हो ( श्रीमती मोनिका उपाध्याय
Image
छिंदवाड़ा जिले के कोरोना वायरस जैसी गंभीर बीमारी से निपटने के लिए अभी तक़ निम्न शिक्षकों ने मुख्यमंत्री सहायता कोष में एक दिन का वेतन देने की घोषणा की है - ठाकुर राजा सिंह राजपूत
तुम भी अपना ख्याल रखना, मैं भी मुस्कुराऊंगी। इस बार जून के महीने में मां, मैं मायके नहीं आ पाऊंगी ( श्रीमती कामिनी परिहार - धार / मध्यप्रदेश)
Image
कोरोना वायरस : भारत में "जून-जुलाई में अपने चरम पर होगा कोरोना- डॉ. रणदीप गुलेरिया."
Image