श्रमिकों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने लगेंगे मेले*

*बैतूल* ( *वीरेंद्र झा* जिला प्रतिनिधि *)


प्राप्त जानकारी के अनुसार श्रमिकों के हुनर को नियोजकों से जोडऩे के लिए ‘रोजगार सेतु बनाया गया है। ऑनलाइन रोजगार देने वाली इस योजना के पोर्टल में श्रमिकों के पंजीयन के साथ नियोजकों का भी पंजीयन किया गया है। इसके अतिरिक्त संबल योजना में पंजीकृत श्रमिक तथा अन्य प्रदेशों से लौटे मध्यप्रदेश के श्रमिकों को रोजगार के अवसर उपलब्घ कराने के लिये जिले में रोजगार मेलों का आयोजन किया जायेगा। कलेक्टर की अध्यक्षता में समिति -------------------- रोजगार मेलों के आयोजन के लिये जिला स्तर पर कलेक्टर श्री राकेश सिंह की अध्यक्षता में रोजगार मेला समिति गठित की गई है। समिति के समन्वयक सीईओ जिला पंचायत होंगे। सदस्य सचिव जिला रोजगार अधिकारी अथवा महाप्रबंधक जिला उद्योग केन्द्र होंगे। समिति में महाप्रबंधक जिला उद्योग केन्द्र, प्रबंधक एकवीएन, कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण, कार्यपालन यंत्री जल संसाधन, आयुक्त नगर निगम/नगर पालिका अधिकारी, महाप्रबंधक ग्रामीण सडक़ प्राधिकरण, पीआईयू लोक निर्माण विभाग, एस.ई./डी.ई. विद्युत वितरण कम्पनी, सहायक आयुक्त श्रम/जिला श्रम पदाधिकारी और उपायुक्त/कार्यपालन यंत्री मध्यप्रदेश गृह निर्माण मण्डल सदस्य होंगे। कलेक्टर ने बताया कि जिले में रोजगार मेले आगामी दिनों में आयोजित किए जाएंगे। जिन जिलों में अधिक श्रमिक पंजीकृत हैं, वहाँ प्राथमिकता के आधार पर रोजगार मेले आयोजित होंगे। प्रत्येक श्रमिक को एस.एम.एस. के माध्यम से सूचना दी जायेगी। मेले तक श्रमिकों को लाने तथा वापस भेजने की व्यवस्था की जायेगी। मेला स्थल पर भोजन और पानी की व्यवस्था भी रहेगी। मेला स्थल में भारत सरकार और मध्यप्रदेश सरकार द्वारा कोरोना वायरस की रोकथाम के संबंध में जारी सभी दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन किया जाना जरूरी होगा। मेला स्थल को सेनेटाइज किया जायेगा। हाथ धोने और थर्मल स्केनिंग की भी व्यवस्था करनी होगी। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित करना होगा।


Popular posts
मध्यप्रदेश के मेघनगर (झाबुआ) में मिट्टी से प्रेशर कुकर बन रहे है
Image
अगर आप दुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा दुखी रहेंगे और सुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा सुखी रहेंगे
Image
भगवान पार ब्रह्म परमेश्वर,"राम" को छोड़ कर या राम नाम को छोड़ कर किसी अन्य की शरण जाता हैं, वो मानो कि, जड़ को नहीं बल्कि उसकी शाखाओं को,पतो को सींचता हैं, । 
Image
कान्हावाड़ी में बनेगी अनूठी नक्षत्र वाटिका, पूर्वजों की याद में लगायेंगे पौधे* *सांसद डीडी उइके एवं सामाजिक कार्यकर्ता मोहन नागर ने कान्हावाड़ी पहुँचकर किया स्थल निरीक्षण
Image
एक ऐसी महान सख्सियत की जयंती हैं जिन्हें हम शिक्षा के अग्रदूत नाम से जानते हैं ।वो न केवल शिक्षा शास्त्री, महान समाज सुधारक, स्त्री शिक्षा के प्रणेता होने के साथ साथ एक मानवतावादी बहुजन विचारक थे। - भगवान जावरे
Image