सुशीला बर्मन पार्लर संचालन के साथ बैंक सखी का भी करती है कार्य


उमरिया - स्व सहायता समूह की महिलाओ ने आर्थिक आत्म निर्भरता प्राप्त करने हेतु विभिन्न गतिविधियों का संचालन एक साथ प्रारंभ कर रखा है। जिले की ग्राम घंघरी निवासी सुशीला बर्मन ने बताया कि 8 जनवरी 2018 को डे ग्रामीण आजीविका परियोजना के सहयोग से एंजल स्व सहायता समूह का गठन किया गया । समूह की सदस्य संख्या 15 है। समूह की अधिकतर महिलाएं खेती बाडी के कार्य से जुड़ी हुई है । इन म हिलाओ को समूह की बचत राशि से खेती के समय बीज खरीदी ए उर्वरक खरीदीए सिंचाई व्यवस्थाए बाडियो की फेसिंग आदि के लिए ऋण उपलब्ध कराया गया ।


सभी महिलाओं ने काम पूरा होने के पश्चात समूह की ऋण राशि वापस कर दी है। उन्होने बताया कि कोरोना संक्रमण के दौरान समूह की महिलाओं ने मास्क बनाने तथा कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु शासन द्वारा जारी उपायों को जन जन तक पहुंचाने में सहयोग किया है। सुशीला बर्मन ने बताया कि अपनी आजीविका के संचालन हेतु वे अपने घर में ब्यूटी पार्लर का संचालन करती है। इसके साथ ही बैंक सखी का कार्य कर महिलाओ को डिजिटल बैकिंग की जानकारी भी देती है


Popular posts
भगवान पार ब्रह्म परमेश्वर,"राम" को छोड़ कर या राम नाम को छोड़ कर किसी अन्य की शरण जाता हैं, वो मानो कि, जड़ को नहीं बल्कि उसकी शाखाओं को,पतो को सींचता हैं, । 
Image
अगर आप दुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा दुखी रहेंगे और सुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा सुखी रहेंगे
Image
मध्यप्रदेश के मेघनगर (झाबुआ) में मिट्टी से प्रेशर कुकर बन रहे है
Image
एक ऐसी महान सख्सियत की जयंती हैं जिन्हें हम शिक्षा के अग्रदूत नाम से जानते हैं ।वो न केवल शिक्षा शास्त्री, महान समाज सुधारक, स्त्री शिक्षा के प्रणेता होने के साथ साथ एक मानवतावादी बहुजन विचारक थे। - भगवान जावरे
Image
कान्हावाड़ी में बनेगी अनूठी नक्षत्र वाटिका, पूर्वजों की याद में लगायेंगे पौधे* *सांसद डीडी उइके एवं सामाजिक कार्यकर्ता मोहन नागर ने कान्हावाड़ी पहुँचकर किया स्थल निरीक्षण
Image