जय जवान : सीआरपीएफ जवान ने अपनी जान पर खेलकर तीन साल के मासूम को आतंकियों से बचाया, पूरा देश कर रहा है सलाम :

( राकेश  शौण्डिक - राँची / झारखंड )


: जम्मू कश्मीर के सोपोर में आज जवानो ने अपनी जान पर खेलकर एक तीन साल के मासूम को आतंकियों की गोलियों का निशाना बनने से बचा लिया. इन जाबांज जवानो को पूरा देश सलाम कर रहा है.



दरअसल आज सुबह सोपोर में सीआरपीफ की पेट्रोलिंग पार्टी पर आतंकियों ने हमला कर दिया. आतंकियों ने यह हमला उस समय घात लगाकर किया जब यह दल गश्त पर निकला था और जैसे ही जवान गाड़ी से बाहर निकले तो आतंकियों ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी. अचानक से हुई इस गोलीबारी में सीआरपीएफ के चार जवान घायल हो गए वहीं एक आम नागरिक की गोली लगने से मौत हो गयी. अस्पताल में भर्ती एक जवान भी शहीद हो गया. जिस नागरिक की गोली लगने से मौत हुई उनके साथ एक तीन साल का बच्चा भी था. मासूम बच्चे को तो शायद पता भी नहीं था कि उसके निर्दोष दादा की कायर आतंकियों द्वारा बेरहमी से हत्या क्यों कर दी गई है. सीआरपीएफ और आतंकियों के बीच हो रही मुठभेड़ के बीच वो अपने दादा के शव पर ही बैठ कर खेल रहा था. तभी सीआरपीएफ के एक जवान की नजर उस बच्चे पर पड़ी. गोलियों की बौछार के बीच सीआरपीएफ के उस जवान ने अपनी जान पर खेल कर मासूम को बचा लिया. जवान द्वारा बच्चे को बचाने के तस्वीर सोशल मीडिया में वायरल हो गयी है. बच्चे की मासूमियत और जवान की जांबाजी हर किसी के दिल को छू रही है.


Popular posts
सरकारी माफिया / म. प्र. भोज मुक्त विश्वविद्यालय बना आर्थिक गबन और भ्रष्टाचार का अड्डा* **राजभवन सचिवालय के अधिकारियों की कार्य प्रणाली संदेह के घेरे में** *कांग्रेसी मूल पृष्ठ भूमि के कुलपति डॉ जयंत सोनवलकर अब राज्यपाल आर एस एस का संरक्षण बताकर कर रहे है खुलकर भ्रष्टाचार*
आंसू" जता देते है, "दर्द" कैसा है?* *"बेरूखी" बता देती है, "हमदर्द" कैसा है?*
पाढर अस्पताल में अब होगा आयुष्मान मरीजों का उपचार, पाढ़र अस्पताल का हुआ अनुबंध :- आशीष पेंढारकर 
Image
लेखन सामग्री क्रय करने हेतु पंजीकृत सप्लायर्स से निविदाएं आमंत्रित
पाकिस्तानी पायलटों को अचानक बैन करने लगे कई देश
Image