ग्रामसभा में बिना कोरम ले लिया नगर पंचायत निरस्त करने का प्रस्ताव, 20 से 25 लोगों में ही हो गई ग्रामसभा


घोड़ाडोंगरी के लोगों ने घोडाडोंगरी को नगर पंचायत का दर्जा देने के लिए कई प्रयास किए


घोडाडोंगरी


घोडाडोंगरी के बासन्याढाना में बिना कोरम के ग्रामसभा का आयोजन कर लिया गया। इतना ही नहीं बिना को राम के आयोजित किए गए इस ग्राम सभा में उपस्थित 20 से 25 लोगों ने घोड़ाडोंगरी को दिए गए नगर पंचायत के दर्जे को निरस्त करने का प्रस्ताव ले लिया. जबकि घोड़ाडोंगरी के लोगों ने घोडाडोंगरी को नगर पंचायत का दर्जा देने के लिए कई प्रयास किए आंदोलन किए। उसके बाद घोड़ाडोंगरी को नगर पंचायत का दर्जा मिला।


वही जिस ग्राम सभा में आज नगर पंचायत को निरस्त करने का प्रस्ताव लिया गया। उसी ग्राम सभा में कुछ माह पहले ही नगर पंचायत बनाने का प्रस्ताव लिया गया था। जिसके आधार पर शासन ने को घोडाडोंगरी को नगर परिषद का दर्जा दियाग्राम पंचायत घोडाडोंगरी द्वारा बासन्याढाना में शुक्रवार को गांधी जयंती के अवसर पर ग्राम सभा का आयोजन किया गया था नियमानुसार ग्राम सभा में 20 प्रतिशत वोटरों का कोरम होना अनिवार्य था। बासन्याढाना क्षेत्र में करीब 600 वोटर है इसके अनुसार ग्राम सभा का कोरम पूरा करने के लिए करीब 120 लोगों का इस ग्राम सभा में उपस्थित होना अनिवार्य था। जिससे कि कोरम पूरा हो पाता। तभी इस ग्राम सभा का आयोजन किया जा सकता था, लेकिन ग्राम पंचायत के सचिव एवं प्रधान ने बिना कोरम के ही 20 से 25 लोगों के साथ ही ग्राम सभा संपन्न कर लीइतना ही नहीं इस ग्राम सभा में घोडाडोंगरी नगर पंचायत को निरस्त करने का प्रस्ताव भी ले लिया गया। जोकि नियमों के अनुसार गलत हैवर्जन ग्राम सभा का कोरम पूरा करने 20 प्रतिशत वोटर कराना अनिवार्य ग्राम सभा का कोरम पूरा करने के लिए क्षेत्र के वोटरों में से 20 प्रतिशत वोटरों का ग्राम सभा में रहना अनिवार्य है। 20 प्रतिशत से कम होने पर कोरम पूरा नहीं होता। इस स्थिति में ग्रामसभा में लिया गया प्रस्ताव की कोई वैल्यू नहीं होती। दानिश खान, सीईओ जनपद पंचायत घोडाडोंगरी


Popular posts
बैतूल पाढर चौकी के ग्राम उमरवानी में जुआ रेड पर जबरदस्त कार्यवाही की गई
Image
जांच के इंतजार में आर ई एस तालाब सलैया
सरकारी माफिया / म. प्र. भोज मुक्त विश्वविद्यालय बना आर्थिक गबन और भ्रष्टाचार का अड्डा* **राजभवन सचिवालय के अधिकारियों की कार्य प्रणाली संदेह के घेरे में** *कांग्रेसी मूल पृष्ठ भूमि के कुलपति डॉ जयंत सोनवलकर अब राज्यपाल आर एस एस का संरक्षण बताकर कर रहे है खुलकर भ्रष्टाचार*
रायसेन में डॉ राधाकृष्णन हायर सेकंडरी स्कूल के पास मछली और चिकन के दुकान से होती है गंदगी नगर पालिका प्रशासन को सूचना देने के बाद भी नहीं हुई कोई कार्यवाही
बीती देर रात सांसद दुर्गादास उईके ने ग्राम पिपरी पहुंचकर हादसे में मृतकों के परिजनों से की मुलाकात ।
Image