रायसेन जिले में एक किसान ने फसल खराब होने एवं कर्ज में डूबे होने के चलते फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली

कहां हैं प्रभुराम चौधरी कौन पोंछेगा किसान के आंसू : भूपेन्द्र गुप्ता


भोपाल


बेगमगंज के नजदीकी गांव ग्राम सुनहरा में एक 40 साल के किसान कृष्णमुरारी उर्फ पप्पू लोधी ने अपने ही घर मे फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। परिजनों का कहना है कि सोयाबीन की फसल खराब होने से बीते कुछ दिन से परेशान चल रहा था उसके पास करीब 5 एकड़ जमीन थी जो कि अत्यधिक बारिश के चलते पूरी तरह से खराब हो गई थी। वही उस पर कुछ कर्ज भी था जिससे परेशान होकर उसने खुदकुशी की है। गुप्ता ने कहा कि किसान की खुदकुशी का ये लगातार दूसरा मामला है। बीते एक सप्ताह पहले ही एक किसान ने अपने ही खेत पर 315 कट्टे से खुद को ही अपने सीने में गोली मारकर खुदकुशी कर ली थी जिससे उस किसान की मौके पर ही मौत हो गई थी। इसके बाद आज ग्राम सुनहरा के किसान ने अपनी खराब फसल के चलते खुदकुशी कर ली हैकिसानों को रोज नये ख्वाब दिखाने वाली शिवराज सरकार की बेखबरी किसानों की मौत का कारण बनी हुई है


Popular posts
ग्रामीण आजीविका मिशन मे भ्रष्टाचार की फिर खुली पोल, प्रशिक्षण के नाम पर हुआ घोटाला, एनसीएल सीएसआर मद से मिले 12 लाख डकारे
Image
आंसू" जता देते है, "दर्द" कैसा है?* *"बेरूखी" बता देती है, "हमदर्द" कैसा है?*
कान्हावाड़ी में बनेगी अनूठी नक्षत्र वाटिका, पूर्वजों की याद में लगायेंगे पौधे* *सांसद डीडी उइके एवं सामाजिक कार्यकर्ता मोहन नागर ने कान्हावाड़ी पहुँचकर किया स्थल निरीक्षण
Image
कुदरत का कहर भी जरूरी था साहब, वरना हर कोई खुद को खुदा समझ रहा था*  - दिनेश साहू
Image
अगर आप दुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा दुखी रहेंगे और सुख पर ध्यान देंगे तो हमेशा सुखी रहेंगे
Image