जिले में अन्य जिलों से आने वाले श्रमिकों के स्वास्थ्य परीक्षण , भ-जन , ठहरने आदि की व्यवस्था डाईट उमरिया में की गई है। - कलेक्टर


उमरिया - जिला स्तरीय आपदा प्रबंधन समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कलेक्टर स्वर-चिष समवंषी ने कहा कि प्रदेष सरकार के निर्देषानुसार प्रदेष के अन्य जिलों में लाक डाउन के तहत फंसे श्रमिकों क बसों द्वारा लाया जा रहा है। जिले में अन्य जिलों से आने वाले श्रमिकों के स्वास्थ्य परीक्षण ए भ-जन ए ठहरने आदि की व्यवस्था डाईट उमरिया में की गई है। सभी व्यवस्थाओं के लिए न डल अधिकारी नियुक्त किए गए हैआपने संबंधित न डल अधिकारियां का निर्देषित किया कि अन्य जिल से बसों का आगमन किसी भी समय ह सकता है। इसलिए न डल अधिकारी चौकस रहें तथा आवष्यकता नुसार अधीनस्थ स्टाफ की तीन षिफ्टों में डियुटी भी लगा लें। बैठक में वनमण्डलाधिकारी द्वारा अवगत कराया गया है कि राज्य शासन द्वारा वन पज संग्रहण के निर्देष दिए गए है। जिसका व्यापक प्रचार प्रसार कराने का निर्णय लिया गयाबैठक में वनमण्डला अधिकारी आर एस सिकरवारए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रेखा सिंहए अनुविभागीय अधिकारी बांधवगढ अनुराग सिंहए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा राजेष श्रीवास्तवए मुख्य नगर पालिका अधिकारी एस के गढपालेए हम गार्ड कमाण्डेंड सी एस उरर्वेदीए स्टेनां कलेक्टर चंद्रकात बलाडी उपस्थित रहे।


Popular posts
सरकारी माफिया / म. प्र. भोज मुक्त विश्वविद्यालय बना आर्थिक गबन और भ्रष्टाचार का अड्डा* **राजभवन सचिवालय के अधिकारियों की कार्य प्रणाली संदेह के घेरे में** *कांग्रेसी मूल पृष्ठ भूमि के कुलपति डॉ जयंत सोनवलकर अब राज्यपाल आर एस एस का संरक्षण बताकर कर रहे है खुलकर भ्रष्टाचार*
कोरोना के एक वर्ष पूरे आज ही के दिन चीन में कोरोना का पहला केस मिला था
Image
ग्रामीण आजीविका मिशन मे भ्रष्टाचार की फिर खुली पोल, प्रशिक्षण के नाम पर हुआ घोटाला, एनसीएल सीएसआर मद से मिले 12 लाख डकारे
Image
दैनिक रोजगार के पल समाचार की तरफ से सभी पत्रकार साथियों को विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
भारत- सीमा विवादः भारत की अंतरराष्ट्रीय सीमा, नियंत्रण रेखा और वास्तविक नियंत्रण रेखा - ये तीनों आख़िर हैं क्या?
Image