किसानों की फसल खरीदी के लिए हर पंचायत स्तर पर स्थापित हो खरीदी केंद्र - नरेश ज्ञानचंदानी*

*किसानों की फसल खरीदी के लिए हर पंचायत स्तर पर स्थापित हो खरीदी केंद्र - नरेश ज्ञानचंदानी*


हुज़ूर विधायक प्रत्‍याशी नरेश ज्ञानचंदानी ने किसानों के दर्द को उठाते कहा
प्रदेश में रबी फसल की खरीदी प्रारंभ हो गई है लेकिन यह खरीदी किसानों के लिए परेशानी का सबब बनती जा रही है 7  गांव के ग्रामीणों का का बड़ी संख्या में एक केन्द्र पर आना कोरोना संक्रमण को बड़ावा दे सकता है. आज देश व प्रदेश में जिस प्रकार से कोरोना बड़े शहरो में अधिक संख्या में फेल चुका है वो सरकार के इस कदम के कारण अब गावों में पैर पसार सकता है. आज आवश्यकता सोशल डिस्टेंस के पालन की है लेकिन इस खरीदी के लिए कई गावों का एक केन्द्र बनाना सोशल डिस्टेंस को समाप्त कर रहा है. हुज़ूर विधायक प्रत्‍याशी नरेश ज्ञानचंदानी ने कहा कि प्रदेश सरकार प्रदेश के हर गाँव में खरीदी केंद्र स्‍थापित करें जिससे सोशल डिस्टेंस का पालन हो सके और कोरोना से बचा जा सके साथ ही किसानों की कई समस्याएं का समाधान भी हो जाएगा. लेकिन सरकार द्वारा आज जो कदम उठाकर यहा खरीदी चालू की है उससे किसानों की जान जोखिम में है. उन्होने कहा कि मेरा सरकार से आग्रह है कमलनाथ जी की सरकार के मंशानुरुप किसानों की फसल का एक एक दाना बेहतर व्यवस्था के साथ खरीदना चाहिए क्योकी एक गाँव में खरीदी केंद्र स्‍थापित करने के मॉडल पर हमारी सरकार काम कर रही थी. दुर्भाग्य से भाजापा की सरकार बन गई लेकिन वो किसान हित में काम करें और किसानों को मौत के मुह में धकेलने का यह कार्य बंद कर हर गाँव में खरीदी प्रारंभ करें |
हुज़ूर विधानसभा के सायेलो पर तो आदमपुर और उसके असपास 55 गांवो के किसानों के गेहूं की खरीद होती है. जिस से भीड़ बड़ जाएगी और सोशल डिस्टेंस का भी पालन नहीं हो पाएगा या किसान का गेहूं समय पर नहीं बिक पाएगा. बहुत समय लग जाएगा किसानों को. किसानों का गेहूं पंचायत स्तर पर खरीद हो और किसानों को नगद भुगतान की व्यवस्था हो. यह इस समय किसानों के हित में है.