मुख्यमंत्री ने की कोरोना की स्थिति एवं नियंत्रण व्यवस्थाओं की समीक्षा


भोपाल : मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना के इलाज के लिए हर जगह बेस्ट प्रैक्टिस को अपनाया जाए। वर्तमान में चिरायु अस्पताल भोपाल में सर्वश्रेष्ठ इलाज हो रहा है। हमें पूरे प्रयास करने होंगे कि हर कोरोना संक्रमित व्यक्ति स्वस्थ होकर घर जाए। हर जिले में आई.सी.यू. की सुविधा प्रारंभ हो, ऐसी व्यवस्थाएं की जाएं। सस्पेक्टेड प्रकरणों में होम क्वारेंटाइन को प्राथमिक दी जाएश्री चौहान मंत्रालय में वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं नियंत्रण व्यवस्थाओं की समीक्षा कर रहे थे। आर. डी. गार्डी अस्पताल की व्यवस्थाएं बनाएँ बेहतर मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए हैं कि उज्जैन स्थित आर डी गार्डी अस्पताल की व्यवस्थाएँ बेहतर बनाई जाएं। कोरोना के इलाज में थोड़ी-सी लापरवाही भी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। लापरवाही पाए जाने पर सख्त कार्रवाई होगी। मुख्य सचिव श्री बैंस ने बताया कि 2 अधिकारियों की टीम को उज्जैन रवाना किया गया है, जो वहाँ जाकर काम की मॉनीटरिंग करेंगीमजदूरों को लाने वाली बसों से न लिया जाए टोल टैक्स मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बाहर के राज्यों में फंसे प्रदेश के मजदूरों को बसों के द्वारा मध्यप्रदेश लाया जा रहा है।


भी भेजा जा रहा है। श्री चौहान ने निर्देश दिए कि वे बिना किसी परेशानी के गंतव्य तक पहुंच जाएं यह सुनिश्चित किया जाए, वे जहां से चलें तथा जहां पहुंचें, दोनों स्थानों पर उनकी स्क्रीनिंग की जाए। मुख्य सचिव ने बताया कि ये निर्देश जारी कर दिए गए हैं कि जो वाहन मजदूरों को लेकर आ रहे हैं, उनसे प्रदेश में टोल टैक्स न वसूला जाए। कार्य में पूरी सावधानी रखें स्वास्थ्य कर्मी और पुलिस कर्मी मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना से निपटने के कार्य में लगे स्वास्थ्यकर्मी, पुलिसकर्मी और अन्य अमला अपने स्वास्थ्य का पूरा ध्यान रखे। वे पूरी सावधानी एवं सतर्कता से कार्य करें, जिससे वे संक्रमित न होंवे एन 95 मास्क, पीपीई किट आदि का उपयोग करेंक्वारेंटाइन सेंटर्स में मनोरंजन सचिव जनसंपर्क श्री पी. नरहरि ने बताया कि कोरोना मरीजों एवं क्वारेंटाइन सेंटर्स में रह रहे व्यक्तियों के लिए कोरोना अस्पतालों एवं सेंटर्स में मनोरंजन की गतिविधियां प्रारंभ की जा रही हैं। मुख्य सचिव श्री बैंस ने निर्देश दिए कि संबंधित कलेक्टर एवं कोविड अस्पतालों के इंचार्ज से बात करके ये गतिविधियाँ शीघ्र प्रारंभ की जाएं। बैठक में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, पुलिस महानिर्देशक श्री विवेक जौहरी, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान उपस्थित थेसाथ ही प्रदेश में मजदूरों को एक जिले से उनके जिलों/गांवों को