औरंगाबाद रेल दुर्घटना में मृत उमरिया जिले के भी पांच श्रमिक


उमरिया - मुख्यमंत्री ने मृतको के परिवार जनो को 5. 5 लाख रूपये तथा जिला प्रषासन ने 1.1 लाख रूपये देने की घोषणा की दुर्घटना में घायल को 25 हजार रूपये देने की घोषणा अपर मुख्य सचिव मध्यप्रदेष शासन आई सी पी केषरी द्वारा कलेक्टर उमरिया को प्राप्त सूचना के आधार पर महाराष्ट्र के औरंगाबाद में रेल दुर्घटना में मृत 16 श्रमिकों में से पांच श्रमिक उमरिया जिले के है तथा एक श्रमिक घायल है। मृतक श्रमिकों में चार श्रमिक पाली जनपद के तथा एक श्रमिक मानपुर जनपद पंचायत का शामिल है। घटना की सूचना मिलते ही पूरा जिला शोक की लहर में आ गयाकलेक्टर स्वरोचिष सोमवंषी ने बताया कि राज्य शासन द्वारा घटना से प्रभावित श्रमिकों की मदद हेतु प्रदेष के मुख्यमंत्री के निर्देष पर प्रदेष शासन की आदिम जाति कल्याण मंत्री मीना सिह तथा अपर मुख्य सचिव आई पी सी केषरी विषेष विमान से औरंगाबाद गये है। जो मृतको को उनके घर तक ले आने तथा घायल श्रमिकों की चिकित्सा व्यवस्था के हर संभव मदद करेगे। मृतकों में उमरिया जिले के अच्छे लाल सिह ग्राम चिल्हारी तहसील मानपुर ए बिगेन्द्र सिह ग्राम ममान तहसील पालीए प्रदीप सिंह ग्राम जमडी तहसील पालीए मुनीम सिह ग्राम नेउसा तहसील पाली ए नेमषाह सिंह ग्राम नेउसा तहसील पाली है। वीरेंद्र सिंह ग्राम ममान तहसील पाली घायल है शोक सवंदेना व्यक्त की है तथा मृतको के परिजनो को राज्य सरकार की ओर से 5. 5 लाख रूपये की राहत राषि देने की घोषणा की है।


जिला प्रषासन द्वारा घायलों के परिजनों को अन्त्येष्टि सहायता योजना के तहत पंाच पांच हजार रूपये तथा जिला स्तर से मदद उप समिति से 1. 1 लाख रूपये की सहायता देने की घोषणा कलेक्टर द्वारा की गई है तथा घायल को 25 हजार रूपये देने की घोषणा की है। मृतको की सूची मिलते ही जिला प्रषासन द्वारा संबंधित एसडीएम तथा राजस्व अधिकारियों को राज्य एवं जिला प्रषासन की ओर से शोक संवेदना व्यक्त करनें तथा शासन की विभिन्न योजनाओ के माध्यम से त्वरित सहायता पहुचाने हेतु पात्रता परीक्षण ए बैंक खाताए आधार कार्ड ए आदि की जानकारी प्राप्त करने हेतु भेजा गया है। कलेक्टर ने बताया कि मृतको के पार्थिव शरीर को लाने की व्यवस्था राज्य शासन द्वारा राज्य स्तर से की जा रही है।


Popular posts
सरकारी माफिया / म. प्र. भोज मुक्त विश्वविद्यालय बना आर्थिक गबन और भ्रष्टाचार का अड्डा* **राजभवन सचिवालय के अधिकारियों की कार्य प्रणाली संदेह के घेरे में** *कांग्रेसी मूल पृष्ठ भूमि के कुलपति डॉ जयंत सोनवलकर अब राज्यपाल आर एस एस का संरक्षण बताकर कर रहे है खुलकर भ्रष्टाचार*
आंसू" जता देते है, "दर्द" कैसा है?* *"बेरूखी" बता देती है, "हमदर्द" कैसा है?*
पाढर अस्पताल में अब होगा आयुष्मान मरीजों का उपचार, पाढ़र अस्पताल का हुआ अनुबंध :- आशीष पेंढारकर 
Image
लेखन सामग्री क्रय करने हेतु पंजीकृत सप्लायर्स से निविदाएं आमंत्रित
पाकिस्तानी पायलटों को अचानक बैन करने लगे कई देश
Image