गरीब मजदूर का राशन ले गए भाजपा कार्यकर्ता - बृजलाल साहू - जिला महामंत्री (ग्रामीण) भोपाल स


भोपाल - कोलार पर नेता जी द्वारा वैभव मैरिज गार्डन में राशन वितरित कार्यक्रम रखा गया था जिसमे गरीबए मजदूर कारों से ओर टू व्हीलर और महंगे-महंगे जीन्स पहनेए 20 हज़ार तक के मोबाइल लेकर आये। कार्यक्रम क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा द्वारा आयोजित किया गया था !!!!! कोलार पर एक समाज के नाम पर रखा था कार्यक्रम समाज के नाम से प्रशासन से राशन लिया था और भाजपा कार्यकर्ताओं और समर्थकों में बाट दिया गया। समाज का किया अपमान समाज अपने दम पर काम करके जीविका चलाती है।


कार्यक्रम में समाज के लोगो को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन देने के बहाने बुलाया था..... जिसमें शासन के नियमों की भी खूब धज्जिया उड़ाई शासन की गाइड लाइन के अनुसार 1 मोटर साइकिल पर एक ही व्यक्ति चलेगा यहा पर दो लोगों को आप देख सकते जिला प्रशासन द्वारा गरीब मजदूर के हिस्से का राशन नेताजी के कार्यकर्ताओं और समर्पित व्यक्तिओ को दिया गया कार्यकर्ता गाड़ी भर भर के ले गए राशन नेताजी ने सब कार्यकर्ताओं के इकट्ठा कर सोसल डिस्टेंस का भी उलंघन किया कार्यकर्ताओं ने फ़ोटो खिंचवाने के चक्कर मे मास्क भी नही लगाया। माननीय कलेक्टर महोदय जी निवेदन है कि अगर अभी किसी प्रकार का धरना प्रदर्शन आंदोलन पर पाबंदी है तो ऐसे नेताओ पर भी पाबंदी लगाना चाहिए जो कानून का पालन नहीं कर रहे हो इनका एक फोटो खिंचवाने का शोक हमारे पूरे समाज को कोरोना युक्त कर सकता है।मेरा जिला प्रशासन से निवेदन है कि ऐसे व्यक्ति की बजह से कोलार करोना सक्रमण हो सकता है इस लिए गरीबों के नाम पर या समाजो के नाम पर नेताजी अपने कार्यकर्ताओं को इकट्ठा कर जमातियों के जैसी हरकत कर रहा है उस पर तुरंत रोक लगाई जानी चाहिएएएवं शख्स से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए


Popular posts
बैतूल पाढर चौकी के ग्राम उमरवानी में जुआ रेड पर जबरदस्त कार्यवाही की गई
Image
भोपाल शहर में जरूरतमंदों के लिए खाने का  इंतजाम करने वाले विभिन्न लोगों के कांटेक्ट नंबर टीम BBM आल भोपाल
रायसेन में डॉ राधाकृष्णन हायर सेकंडरी स्कूल के पास मछली और चिकन के दुकान से होती है गंदगी नगर पालिका प्रशासन को सूचना देने के बाद भी नहीं हुई कोई कार्यवाही
बैतुल के पूर्व विधायक एंव वरिष्ट कांग्रेसी नेता श्री विनोद डागा जी का निधन
Image
ग्रामीण आजीविका मिशन मे भ्रष्टाचार की फिर खुली पोल, प्रशिक्षण के नाम पर हुआ घोटाला, एनसीएल सीएसआर मद से मिले 12 लाख डकारे
Image