कोरोना वायरस व लाकडाउन के चलते प्रवासी मजदूरों को उनके घरों तक भेजने शिवराज सरकार नाकाम: सुरेन्द्र चौधरी


भोपाल - कोरोना वायरस व लाकडाउन के चलते प्रवासी मजदूरों को उनके घरों तक भेजने में शिवराज सरकार के नाकाम साबित होने का का आरोप लगाते हुए मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री श्री सुरेंद्र चैधरी ने कहा है कि 56 दिनों के लाकडाउन बीत जाने के बाद भी हजारों परिवार शिवराज सरकार की नाकामी के कारण अपने घरों तक नहीं पहुंच सके हैं इस बात की पुष्टि सागर जिले के ग्राम पामाखेड़ी निवासी श्री संजय शर्मा ने 21 दिन पहले पूना से सागर आने पंजीयन कराया था इसी प्रकार विकासखंड सागर के ग्राम रजौआ में फसल कटाई कार्य के लिए आए राजस्थान के ग्राम खैरपुर जिला बारा निवासी सतपाल खेरुआ व उनके अन्य 15 साथी जो पिछले 1 माह से सागर में फंसे हैं जो अपने घर जाने के लिए लगातार आवेदन कर रहे हैयही नही विकासखंड सागर के ग्राम टीला खेड़ी निवासी श्री बहादुर सिंह सिंह का परिवार उत्तराखंड से सागर आने 1 माह पूर्व पंजीयन कराने के बाद भी शासन द्वारा उनके घरों तक भेजने की कोई व्यवस्था की गई है


इसी प्रकार अन्य प्रदेशों के मध्य प्रदेश में और अन्य प्रदेशों में मध्यप्रदेश में फंसे हजारों परिवारों की स्थिति इसी प्रकार है जिन्हें न तो शासन की ओर से कोई सहायता मुहैया कराई गई है और न ही उनके खातों में 1.1 हजार रुपये शासन की घोषणा अनुसार उन तकनहीं पहुंच सकी है हजारों परिवार अपने घरों तक जाने की उम्मीद लगाए हुए हैश्री चैधरी ने कहा कि यही स्थिति कैंटोनमेंट क्षेत्रों में निवासरत गरीब मजदूर परिवारों को भी शासन की ओर से खाद्य सामग्री के साथअन्य सहायता भी मुहैया नहीं कराई जा रही है जिस कारण हजारों गरीब मजदूर परिवारों पर आर्थिक संकट मंडराने के साथ-साथ भरण पोषण का भी संकट उत्पन्न हो गया है जो शिवराज सरकार की नाकामी को उजागर करता है।


Popular posts
बैतूल पाढर चौकी के ग्राम उमरवानी में जुआ रेड पर जबरदस्त कार्यवाही की गई
Image
भोपाल शहर में जरूरतमंदों के लिए खाने का  इंतजाम करने वाले विभिन्न लोगों के कांटेक्ट नंबर टीम BBM आल भोपाल
रायसेन में डॉ राधाकृष्णन हायर सेकंडरी स्कूल के पास मछली और चिकन के दुकान से होती है गंदगी नगर पालिका प्रशासन को सूचना देने के बाद भी नहीं हुई कोई कार्यवाही
बैतुल के पूर्व विधायक एंव वरिष्ट कांग्रेसी नेता श्री विनोद डागा जी का निधन
Image
ग्रामीण आजीविका मिशन मे भ्रष्टाचार की फिर खुली पोल, प्रशिक्षण के नाम पर हुआ घोटाला, एनसीएल सीएसआर मद से मिले 12 लाख डकारे
Image