मुख्यमंत्री जी कम से कम गरीबों के साथ छलराजनीति मत कीजिये...! लगता है "प्रकृति और महाझूठ" दोनों ही आपका साथ नहीं दे रहे हैं : के के मिश्रा


 भोपाल - मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान जी लगता है "प्रकति और महाझठ" दोनों ही आपका साथ नहीं दे रहे हैं। प्रमुख दैनिक "पत्रिका" के आज 21मई 2020 के प्रकाशित अंक के प्रथम पृष्ठ पर आपका एक ट्वीट प्रकाशित हुआ है। शीर्षक है"शिवराज ने कहा-मध्यप्रदेश की व्यवस्थाएं बेहतर श्रमिकों की मदद देखना है तो प्रियंका प्रदेश आएं"...मुख्यमंत्री जी इसी दैनिक के ही पृष्ठ-4 में आपके सफ़ेद महाझूठ का पर्दाफाश भी हो गया है!प्रकाशित शीर्षक है-"मज़दूरों की मजबूरी: बिजासन घाट पिटोल नाके से थम नहीं रहा मज़दूरों का रैलाए शिप्रा में बस के लिए 3 किमी लंबी लाइन लगाकर इंतज़ार कर रहे हैं प्रवासी मजबूर"...कहाँ हैंए आपके दावे के अनुरूप प्रतिदिन चल रही 1000 बसें...कहीं ये "वर्मा बस ट्रेवल्स" की तो नहीं हैं मुख्यमंत्री जी कम से कम गरीबों के साथ छल-राजनीति मत कीजिये...!


Popular posts
बैतूल पाढर चौकी के ग्राम उमरवानी में जुआ रेड पर जबरदस्त कार्यवाही की गई
Image
जांच के इंतजार में आर ई एस तालाब सलैया
बीती देर रात सांसद दुर्गादास उईके ने ग्राम पिपरी पहुंचकर हादसे में मृतकों के परिजनों से की मुलाकात ।
Image
कोरोना के एक वर्ष पूरे आज ही के दिन चीन में कोरोना का पहला केस मिला था
Image
सरकारी माफिया / म. प्र. भोज मुक्त विश्वविद्यालय बना आर्थिक गबन और भ्रष्टाचार का अड्डा* **राजभवन सचिवालय के अधिकारियों की कार्य प्रणाली संदेह के घेरे में** *कांग्रेसी मूल पृष्ठ भूमि के कुलपति डॉ जयंत सोनवलकर अब राज्यपाल आर एस एस का संरक्षण बताकर कर रहे है खुलकर भ्रष्टाचार*