श्री गणेशाय नमः आज का नाम है  (विश्वतो 

श्री गणेशाय नमः आज का नाम है
 (विश्वतो
मुखी )अर्थात जिनका मुख्य समस्त दिशाओं में विद्यमान है या जो समस्त दिशाओं में स्वयं विद्यमान है एक समय की बात है सती रूप में माई भगवान शिव  शिव से अपने पिता प्रजापति दक्ष के घर जाने की अनुमति मांगी परंतु शिवजी ने उन्हें मना कर दिया वे उनका मार्ग वाधित करने लगे माई ने सती रूप में सभी बाधित मार्गो से अपने आप को स्थान अंतर कर लिया वह दसों दिशाओं में भी प्रकट होती रही उनका यह रूप देखकर भगवान शिव डर गए वा उन्होंने मार्ग बाधित करना छोड़ दिया उसके पश्चात देवी अपने पिता के घर चली गई और आगे का इतिहास तो हम सबको विदित ही है कि किस तरह दक्ष की यज्ञशाला में उन्होंने अपने प्राणों की आहुति दे दी और भगवान शिव ने बाद में दक्ष का वध कर दिया जय माई की


Popular posts
बैतूल पाढर चौकी के ग्राम उमरवानी में जुआ रेड पर जबरदस्त कार्यवाही की गई
Image
ग्रामीण आजीविका मिशन मे भ्रष्टाचार की फिर खुली पोल, प्रशिक्षण के नाम पर हुआ घोटाला, एनसीएल सीएसआर मद से मिले 12 लाख डकारे
Image
रायसेन में डॉ राधाकृष्णन हायर सेकंडरी स्कूल के पास मछली और चिकन के दुकान से होती है गंदगी नगर पालिका प्रशासन को सूचना देने के बाद भी नहीं हुई कोई कार्यवाही
बैतुल के पूर्व विधायक एंव वरिष्ट कांग्रेसी नेता श्री विनोद डागा जी का निधन
Image
ग्राम बादलपुर में धान खरीदी केंद्र खुलवाने के लिये बैतूल हरदा सांसद महोदय श्री दुर्गादास उईके जी से चर्चा करते हुए दैनिक रोजगार के पल के प्रधान संपादक दिनेश साहू
Image