शालाओ में पुस्तक वितरण के बण्डलिंग स्व सहायता समूह की महिलाओं को मिल रहा है रोजगार

उमरिया -


महिलाओ को रोजगार उपलब्ध कराने के उददेश्य से जिले में नई पहल करते हुए राज्य शासन द्वारा प्राथमिक एवं माध्यमिक शालाओं में वितरित की जाने वाली पुस्तकों के बण्डलिंग का कार्य ग्रामीण आजीविका मिशन अंतर्गत संचालित स्व सहायता समूहों को सौंपा गया है। कोरोना महामारी के दौरान महिलाओं को आर्थिक गतिविधियों से जोडने की जिला प्रशासन की पहल की सराहना की जा रही है। जिले में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी अंशुल गुप्ता के निर्देशन में ग्रामीण महिलाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराये जा रहे है। वित्तीय वर्ष 2020.21 में प्राथमिक एवं माध्यमिक शालाओं में पुस्तक वितरण का कार्य मध्य प्रदेश है राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन अंतर्गत संचालित महिला स्व सहायता समूहो को प्रदान किया गया है।


जिला परियोजना प्रबंधक नीरज परमार ने बताया कि उमरिया जिले के तीनो विकास खण्ड में आजीविका मिशन अंतर्गत संचालित महिला स्व सहायता समूहो को जपनद शिक्षा केन्द्र के माध्यम से प्राथमिक एवं माध्यमिक शालाओ में पुस्तक वितरण का कार्य मिला है। प्रत्येक विकास खण्ड में 1.1 समूह के सदस्यों को ये जवाबदारी दी गई है । स्व सहायता समूहां के सदस्यों द्वारा सामाजिक दूरी का ध्यान रखते हुए मास्क पहनकर कार्य किया जा रहा है। जिले में यह पहला अवसर है कि स्व सहायता समूह के सदस्यों को पुस्तक वितरण का कार्य मिला है। यह कार्य मिलने से समूह सदस्य खुश है और बड़े उत्साह से कार्य कर रहे है।