वाह,क्या चरित्र है,आपातकाल का स्मरण करते हुई शिवराज जी को सुना,कह रहे है इंदिरा गांधी जी ने लोकतंत्र की हत्या अपनी सरकार बचाने के लिए की थी...और आपने?सरकार बनाने के लिए!! कुछ बोलने के पहले जरा आईने में अपना चेहरा भी देख लिया कीजिये

वाह,क्या चरित्र है,आपातकाल का स्मरण करते हुई शिवराज जी को सुना,कह रहे है इंदिरा गांधी जी ने लोकतंत्र की हत्या अपनी सरकार बचाने के लिए की थी...और आपने?सरकार बनाने के लिए!! कुछ बोलने के पहले जरा आईने में अपना चेहरा भी देख लिया कीजिये! @ChouhanShivraj @narendramodi @OfficeOfKNath